November 27, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

फ्लैट देने के नाम पर बिल्डर ने की धोखाधड़ी, आम्रपाली ग्रुप के डायरेक्टर सहित 14 गिरफ्तार

मुंबई:- दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (EOW) ने आम्रपाली ग्रुप के डायरेक्टर अनिल शर्मा और शिव प्रिया के साथ 14 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। यह गिरफ्तारी फ्लैट की डिलिवरी न देने के मामले में की गई है। इस मामले में साल 2019 में EOW के पास केस दर्ज की गई थी।

सेंचुरियन पार्क प्रोजेक्ट के नाम पर धोखाधड़ी

जानकारी के मुताबिक दर्ज केस में यह आरोप लगाया गया था कि आम्रपाली ग्रुप की कंपनी आम्रपाली सेंचुरियन पार्क ने इसी नाम से एक प्रोजेक्ट लांच किया था। यह प्रोजेक्ट ग्रेटर नोएडा में था। कंपनी ने इस प्रोजेक्ट की लीडिंग अखबारों में विज्ञापनबाजी की और यह दावा किया कि इस प्रोजेक्ट को संबंधित अथॉरिटी से मंजूरी मिली है।
शिकायतकर्ता के मुताबिक आम्रपाली सेंचुरियन ने 2,3 एवं 4 बेडरूम, ह़ॉल और किचन (BHK) वाले फ्लैट की एरिया 885 वर्ग फुट से 2,070 वर्ग फुट तक रखी थी। इसमें सभी आधुनिक सुविधाएं देने की बात कही गई थी। शिकायतकर्ता ने कहा कि उसने इसी विज्ञापन को देखकर 2017 में 2 फ्लैट बुक किया और उसका पूरा पेमेंट भी किया। एग्रीमेंट भी दोनों के बीच बना पर शिकायतकर्ता को फ्लैट नहीं मिला।

2018 में भी दर्ज हुआ था मामला

इसी बीच इस तरह की कुल 168 शिकायतें आई। 2018 में एक और प्राथमिक रिपोर्ट (FIR) बिल्डर के खिलाफ दर्ज की गई। इन शिकायतों में कहा गया कि आम्रपाली स्मार्ट सिटी डेवलपर्स ने गोल्फ होम प्रोजेक्ट लांच किया और यह फ्लैट 2014 में उसे डिलिवरी करना था। पर बिल्डर ने यह भी फ्लैट नहीं दिया। इस तरह तमाम शिकायतों के बाद आम्रपाली के डायरेक्टर को गिरफ्तार कर लिया गया है। वैसे इस तरह के करीबन 14 मामले आम्रपाली ग्रुप पर दर्ज हैं।

Recent Posts

%d bloggers like this: