December 6, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

राजग ने बिहार में 11 मेडिकल और 39 इंजीनियरिंग कॉलेज खोल प्रतिभा पलायन रोका : सुशील कुमार मोदी

पटना:- बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने राज्य में पिछले 55 साल में केवल एक ही चिकित्सा महाविद्यालय की स्थापना को लेकर कांग्रेस एवं राष्ट्रीय जनता दल (राजद) पर हमला बोला और कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार ने पंद्रह वर्ष के कार्यकाल में 11 मेडिकल और 39 इंजीनियरिंग कॉलेज खोलकर प्रदेश से प्रतिभा के पलायन को रोका है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता श्री मोदी ने शनिवार को ट्वीट किया कि राजग सरकार में 15 साल में बेतिया, पावापुरी, मधेपुरा सहित पांच नये मेडिकल कालेज खुले। दरभंगा में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) सहित 11 चिकित्सा महाविद्यालय स्थापित किये जा रहे हैं। उन्होंने श्री राहुल गांधी और श्री तेजस्वी प्रसाद यादव का नाम लिए बगैर सवालिया लहजे में कहा कि कांग्रेस और राजद के युवराज बतायें कि बिहार में 55 साल में केवल एक नया मेडिकल कालेज क्यों खुला। श्री मोदी ने कहा कि राजग सरकार ने 39 इंजीनियरिंग कालेज खोले लेकिन वे केवल दो ही इंजीनियरिंग कालेज क्यों खोल पाये। उन्होंने पूछा कि जो बिहार में इंजीनियरिंग और मेडिकल की पढ़ाई का इंतजाम नहीं कर पाये, वे क्या प्रतिभा पलायन के लिए जिम्मेदार नहीं हैं। भाजपा नेता सवालिया लहजे में कहा कि राजग सरकार ने कौशल विकास के लिए हर जिले में पॉलीटेक्निक (कुल 31) संस्थान खुलवाये लेकिन उनके राज में केवल 13 पॉलिटेक्निक क्यों खुले। उन्होंने कहा कि राजग सरकार 149 औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान (आईटीआई) स्थापित कर रही है ताकि युवा नौकरी और रोजगार के लायक बनें। वहीं, बड़बोले दावे करने वाले केवल 29 आईटीआई क्यों खोल पाए। क्या वे दस लाख अकुशल लोगों को भी सरकारी नौकरी दे सकते हैं। श्री मोदी ने कहा कि राजग सरकार निजी क्षेत्र में 1202 आईटीआई स्थापित करा रही है। उन्होंने श्री तेजस्वी प्रसाद यादव से पूछा कि महागठबंधन के युवराज बतायें कि आजादी के 60 साल बाद भी निजी क्षेत्र में केवल गिने-चुने आईटीआई क्यों हैं।

Recent Posts

%d bloggers like this: