November 24, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

2 नवंबर से शुरू हो रही नीलामी प्रक्रिया, कोयला ब्लॉक हासिल करने की दौड़ में वेदांता और अडाणी

नई दिल्ली:- देश में पहली बार वाणिज्यिक खनन के लिए सोमवार से शुरू हो रही कोयला ब्लॉक की नीलामी में वेदांता, जिंदल स्टील एंड पावर, अडाणी एंटरप्राइजेज, हिंडाल्को इंडस्ट्रीज और जेएसडब्ल्यू स्टील जैसी कंपनियां शामिल होंगी। सरकार ने इसके तहत 19 कोयला ब्लॉक रखे हैं। कोयला मंत्रालय इन ब्लॉक की इलेक्ट्रॉनिक नीलामी दो से नौ नवंबर तक लगातार आठ दिन करेगा। मंत्रालय की सूचना के मुताबिक सोमवार को पांच कोयला ब्लॉक की नीलामी की जाएगी। ये ब्लॉक झारखंड में चकला, महाराष्ट्र में मारकी मांगली-2, ओडिशा में राधिकापुर (पश्चिम), महाराष्ट्र में ताक्ली-जेना-बेलोरा (उत्तर) और ताक्ली-जेना-बेलोरा (दक्षिण) एवं मध्य प्रदेश में उरतन हैं। हिंडाल्को इंडस्ट्रीज और अडाणी एंटरप्राइजेज जैसी कंपनियां नीलामी में झारखंड के चकला ब्लॉक को पाने के लिए बोलियां लगाएंगी। इसी तरह ओडिशा में राधिकापुर (पश्चिम) कोयला ब्लॉक को हासिल करने की दौड़ में जिंदल स्टील एंड पावर और वेदांता लिमिटेड होंगी। महाराष्ट्र में मारकी मांगली-2 कोयला ब्लॉक के लिए यजदानी इंटरनेशनल प्राइवेट लिमिटेड, आंध्र प्रदेश खनिज विकास निगम और रेफेक्स इंडस्ट्रीज बोलियां लंगाएंगी। जबकि राज्य के ताक्ली-जेना-बेलोरा (उत्तर) और ताक्ली-जेना-बेलोरा (दक्षिण) कोयला ब्लॉक के लिए ऑरबिंदो रियल्टी एंड इंफ्रास्ट्रक्चर और सनफ्लैग आयरन एंड स्टील कंपनी लिमिटेड प्रतिस्पर्धा करेंगी। मध्य प्रदेश के कोयला ब्लॉक को हासिन करने की दौड़ में जेएमएस माइनिंग प्राइवेट लिमिटेड और स्ट्राटाटेक मिनरल रिसोर्सेज शामिल हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के कोयला क्षेत्र को निजी क्षेत्र के लिए खोलने की घोषाणा जून में की थी। सरकार की योजना कुल 41 कोयला ब्लॉकों वाणिज्यिक खनन पर देने की है।

Recent Posts

%d bloggers like this: