December 4, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

रांची झील को पर्यटन स्थल बनाया जाए : अजय मारू प्रवासी पक्षियों का बन रहा है बसेरा

रांची:- रांची झील प्रवासी पक्षियों का बसेरा बनता जा रहा है. झील के पास बड़ी संख्या में पक्षी उड़ान भरते देखे जा सकते हैं। राज्यसभा के पूर्व सांसद अजय मारू ने इस ऐतिहासिक झील को रांची का प्रमुख पर्यटन स्थल बनाने का आग्रह सरकार से किया है। उन्होंने कहा है कि वह बचपन से इस झील को देखते रहे हैं लेकिन पिछले कुछ वर्षों में इसकी दुर्दशा हो गयी। पिछले कुछ वर्ष पहले सरकार ने झील की सफाई करवाई और स्वामी विवेकानंद की मूर्ति लगवाई।
कुछ दिनों तक सैलानियों का आना-जाना शुरू हो गया लेकिन उसके कुछ माह बाद पुरानी स्थिति बन गई। श्री मारू ने कहा कि इस झील को पर्यटन स्थल बना देने से बाहर से भी सैलानी आने लगेंगे। उन्होंने कहा कि रांची में ऐसा मनोरम दृश्य शायद ही कभी दिखाई देता है। झील के सामने पहाड़ी मंदिर का दिखना भी झील की शोभा बढ़ा देता है।
झील के एक किनारे मंदिर है जो ऐतिहासिक है। छठ पर्व पर झील एक मनोरम दृश्य में बदल जाती है। श्री मारू ने कहा कि विवेकानंद की मूर्ति लगने के बाद बीच झील में जाने में आसान हो गया था। वहां तो हाट बाजार भी लगने लगा था। लोगों को रोजी-रोटी कमाने का भी अवसर मिल रहा था।
इस झील में नौकायन, कैंटीन आदि की व्यवस्था हो जाने के बाद यह स्थान सैलानियों के लिए बड़ा केंद्र बन जाएगा।
संस्कृति बिहार के द्वारा बुंडू के सुनसान जगह पर प्रसिद्ध सूर्य मंदिर का निर्माण किया गया। स्वर्गीय सीताराम मारू ने कड़ी मेहनत कर सूर्य मंदिर का निर्माण किया। वहां शिक्षा का मंदिर खोला गया। आज बड़ी संख्या में सैलानी सूर्य मंदिर देखने आते हैं।

Recent Posts

%d bloggers like this: