November 24, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

एसबीआई की शाखा में चोरों का उत्पात, एक बड़ी योजना को अंजाम देने में हुए विफल

चतरा:- चतरा शहर से सटे एसबीआई की तपेज शाखा में एक बार फिर चोरों ने जमकर उत्पात मचाया। हालांकि इस दौरान पुलिस की तत्परता से संभावित बड़ी घटना टल गई। रात के अंधेरे में वेंटीलेटर तोड़ बैंक में घुसे चोर मौके पर रात को गश्त कर रही पुलिस को देख भाग निकले। जिससे न सिर्फ बैंक को बड़ा नुकसान होने से बच गया बल्कि चोरों की योजना विफल हो गई। बैंक में चोरी का प्रयास की सूचना पुलिस को तब मिली जब नियत समय पर बैंक कर्मी बैंक खोलने शाखा पहुंचे। बैंक का मुख्य द्वार खोल शाखा प्रबंधक व अन्य कर्मी जैसे ही शाखा में दाखिल हुए उन्हें बैंक में चोरी की भनक लग गई। हालांकि इस दौरान चोर बैंक के रोकड़ कक्ष में नहीं घुस सके। चोरों ने रोकड़ कक्ष का सटर तोड़ने का भी प्रयास किया लेकिन मौके पर पुलिस को देख वे भाग निकले। हालांकि इस दौरान चोरों ने बैंक में लगे सीसीटीवी, लिंक यूनिट व कई लॉकरों को क्षतिग्रस्त करते हुए दस्तावेजों को इधर-उधर बिखेर दिया।
इधर घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंचे सदर थाना प्रभारी लव कुमार ने बैंक प्रबंधन पर सुरक्षा मानकों व निर्देशों का अनुपालन नहीं करने आरोप लगाया है। थाना प्रभारी ने बताया कि देर रात बैंक के अंदर से खटपट की आवाज की सूचना मिली थी। जिसके बाद टाइगर मोबाइल की टीम को बैंक सर्च करने का निर्देश दिया गया था। लेकिन रात होने के कारण टाइगर मोबाइल के जवान बैंक का सटर ठकठका कर वापस लौट गए थे। वे बैंक के पिछले हिस्से में नहीं जा सके थे। थाना प्रभारी ने बताया कि कई बार शाखा प्रबंधक को वेंटिलेटर बंद कराने व सीसीटीवी को दुरुस्त कराने का लिखित निर्देश दिया गया है। बावजूद शाखा प्रबंधक ने सुरक्षा मानकों का अनुपालन करने में दिलचस्पी नहीं दिखाई। थाना प्रभारी के अनुसार रात में जवानों द्वारा बैंक का सटर ठकठकाए जाने के कारण ही चोरी की फिराक में बैंक में घुसे चोर घटना को अंजाम दिए बगैर भाग गए। जिससे बड़ी घटना होते-होते टल गई। दुर्गा पूजा और रविवार छुट्टी के कारण बैंक दो दिनों से बंद था। गौरतलब है कि एसबीआई की तबीयत शाखा में चोरी की यह दूसरी घटना है। इससे पूर्व चोरों ने शाखा में लगे एटीएम मशीन को है उखाड़ कर चोरी कर लिया था। बावजूद बैंक प्रबंधन और शाखा प्रबंधक सुरक्षा के प्रति गंभीर नहीं हुए, जिससे बड़ी घटना होते-होते टल गई।

Recent Posts

%d bloggers like this: