December 5, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

निकिता तोमर मर्डर केस: आरोपी तौसीफ ने कबूला अपना गुनाह, मारने की बताई दो वजह

चंडीगढ़:- हरियाणा के बल्लभगढ़ में निकिता तोमर नाम की छात्रा को दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या करने की बाद आरोपी तौसीफ ने कबूल कर ली है। तौसीफ फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में इस हत्या को अंजाम देते हुए कैमरे में भी कैद हो चुका है। उसने निकिता की हत्या उस समय कर दी जब वो परीक्षा देकर कॉलेज से बाहर निकल रही थी। जानकारी के अनुसार तौसीफ और एक अन्य आरोपी को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। पुलिस से पूछताछ में हत्या की बात कबूल की है। तौसीफ ने पुलिस को बताया है कि उसने निकिता को इसलिए मार दिया क्योंकि वो किसी और शादी करने वाली थी। पुलिस की जांच में ये बात भी सामने आई है कि तौसीफ और निकिता तोमर की 24-25 अक्टूबर की दरमयानी रात फोन पर लंबी बातचीत भी हुई थी। पुलिस के अनुसार निकिता और तौसीफ के बीच ये बातचीत 1000 सेकेंड से ज्यादा लंबी थी।
निकिता तोमर मर्डर: ‘गिरफ्तारी का लिया बदला’
मिली जानकारी के अनुसार पीड़िता के परिवार ने बताया की तौसीफ उनकी बेटी को लंबे समय से परेशान कर रहा था। परिवार के अनुसार साल 2018 में तौसीफ ने निकिता का अपहरण भी किया था। परिवार ने इस बारे में FIR कराया। इसके बाद पुलिस ने तौसीफ को गिरफ्तार किया था। निकिता के परिवार ने हालांकि बाद में दोनों परिवारों में हुए सुलह के बाद केस वापस ले लिया था।
तौसीफ ने पुलिस से पूछताछ में अब ये बताया है कि उसने अपनी गिरफ्तारी का बदला लिया है। उसने पुलिस को बताया, ‘मैं मेडिकल की पढ़ाई नहीं कर सका क्योंकि मैं गिरफ्तार हो गया था। इसलिए मैंने ये बदला लिया।’ बता दें कि हत्या की ये घटना सोमवार दोपहर को हुई। उस समय निकिता तोमर अपनी परीक्षा देने के बाद कॉलेज से बाहर आ रही थी। वह बीकॉम फाइनल ईयर की छात्रा थी। निकिता जैसे ही अपनी एक दोस्त के साथ अग्रवाल कॉलेज के गेट के बाहर आई, एक आई20 कार उनके पास आकर रूकी। इस कार में दो युवक सवार थे। इनमें से एक युवक ने युवती को कार में खींचने की कोशिश की। लड़की ने जब विरोध जताया तो एक युवक ने फायरिंग कर दी। गोली लड़की की छाती में लगी और वह वहीं गिर गई। इसके बाद दोनों आरोपी कार से वहां से भाग खड़े हुए।

%d bloggers like this: