November 27, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

DGCA का ऐलान, 30 नवंबर तक निलंबित रहेंगी इंटरनेशनल उड़ानें

नई दिल्ली:- कोरोना वायरस संकट के चलते शेड्यूल की गई अंतरराष्ट्रीय वाणिज्यिक यात्री सेवाओं को अब 30 नवंबर, 2020 तक निलंबित कर दिया गया है। नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने बुधवार को यह जानकारी दी। इससे पहले केंद्र सरकार ने अंतर्राष्ट्रीय वाणिज्यिक उड़ान सेवाओं पर लगे प्रतिबंध को 31 अक्टूबर 2020 तक के लिए बढ़ाया था। देश में कोरोना वायरस के दैनिक मामलों में आज वृद्धि दर्ज की गई। मंगलवार की तुलना में बुधवार को कोविड-19 के नए मामलों की संख्या बढ़ी है। मंगलवार को जहां 36,469 मामले रिपोर्ट किए गए थे वहीं, बुधवार को 43,893 नए मामले सामने आए हैं। मालूम हो कि भारत ने कोरोना वायरस महामारी के कारण दो महीने के अंतराल के बाद 25 मई को घरेलू यात्री उड़ानों को फिर से शुरू किया गया था। इसके बाद विदेश में फंसे यात्रियों को वापस लाने के लिए वंदे भारत मिशन चलाया गया और कई देशों के साथ एयर बबल करार भी किया गया। भारतीय एयरलाइंस को पूर्व कोविड-19 घरेलू उड़ानों का अधिकतम 60 फीसदी संचालन करने की अनुमति है। इस साल जून में कुल 19.84 लाख यात्रियों ने घरेलू यात्रा की। डीजीसीए ने कहा कि 25 मई से 31 मई के बीच 2.81 लाख हवाई यात्रियों ने घरेलू यात्रा की थी।

सितंबर में इतने यात्रियों ने किया सफर

डीजीसीए के आंकड़ों के अनुसार, इस साल सितंबर में कुल 39.43 लाख घरेलू यात्रियों ने हवाई यात्रा की, जो पिछले साल की समान अवधि की तुलना में 66 फीसदी कम है। वहीं जुलाई और अगस्त में क्रमशः 21.07 लाख और 28.32 लाख लोगों ने हवाई यात्रा की। डीजीसीए द्वारा साझा किए गए आंकड़ों के अनुसार, इंडिगो ने सितंबर में 22.66 लाख यात्रियों को सेवाएं दी, जो कुल घरेलू बाजार का 57.5 फीसदी हिस्सा है। स्पाइसजेट ने 5.3 लाख यात्रियों को सेवाएं प्रदान की, जो कुल बाजार का 13.4 फीसदी हिस्सा है। सितंबर में एयर इंडिया, एयर एशिया इंडिया, विस्तारा और गोएयर से क्रमश: 3.72 लाख, 2.35 लाख, 2.58 लाख और 2.64 लाख यात्रियों ने सफर किया।

Recent Posts

%d bloggers like this: