November 29, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बालकृष्ण यादव ने विधायक को लिखा पत्र,सकारात्मक पहल की मांग

बिना पानी पटाये ओर बिना गार्ड के कंपनी की हाइवा परिचालन को लेकर लोगो मे पनप रहा है आक्रोश

टंडवा /चतरा:- कोल ट्रांसपोर्टिंग के आवागमन को लेकर पब्लिक सड़क की बजाए सीसीएल एवं कोई भी कम्पनी अब तक खुद की ट्रांसपोर्टिंग सड़क की निर्माण की दिशा में फिसड्डी साबित हुई है ।जिसका खामियाजा आम नागरिकों को भुगतना पड़ता है । चाहे पिछला ओर वर्तमान इतिहास आम्रपाली का रहा हो लोगो को ट्रांसपोर्टिंग की कीमत जान देके चुकानी पड़ी है ।वही विगत छह वर्षो के अंतराल में देखा जाए तो कोल परियोजना क्षेत्र कोल वाहनों का सड़क पर परिचालन होने से थोड़ा बहुत फायदा वाहन मालिकों को हुआ ।उनकी बेरोजगारी मिटी है ।वही यदि सीसीएल एवं सरकार थोड़ी सी ओर मेहनत होती तो कोल वाहनों के परिचालन के लिए वैकल्पिक सड़क मार्ग आम जनमानस को असमय मौत की घटना से मुक्ति दिलाया जा सकता था ।परंतु ऐसा अभी तक सम्भव नही हो पाया है ।जिससे आम नागरिकों में कोल वाहनों के परिचालन को लेकर बना हुआ डर दूर नही हो पा रहा है । वही इन्ही सबके बीच हिन्दू युवा वाहिनी के चतरा जिला अध्यक्ष बालकृष्ण यादव ने हाल के दिनों में आरकेटीसी कम्पनी पर दोषपूर्ण ढंग से कोल वाहनों के परिचालन पर आक्रोश व्यक्त किया है साथ ही स्थानीय विधायक किशुन कुमार दास को लिखित जानकारी देकर इस दिशा में सकारत्मक पहल करने की मांग की है। जिससे आम आवाम को नुकसान न उठाना पड़े ।लिखे गए पत्र में विधायक का ध्यान आकृष्ठ करते हुए बताया गया है कि आपके गृह क्षेत्र में प्रतिदिन सैकड़ो हाइवा वाहन द्वारा आम्रपाली परियोजना से कोयला ढुलाई एक वर्षो से जारी है ।परन्तु कोयला ढुलाई में शामिल कम्पनी द्वारा प्रदूषण रोकने को लेकर कोई विशेष पहल नही की गई है ।वाहनों के परिचालन से होने वाले दुर्घटनाओं की रोकथाम को लेकर किसी भी प्रकार का व्यवस्था नही की गई है ।सम्बन्धित कम्पनियो द्वारा आमजन के जीबन के साथ खिलवाड़ करते हुए नियमो कानूनों की खुले आम धज्जियां उड़ाते हुए ।कोयले की ढुलाई आम जनमानस के समझ से बाहर है ।बताया गया है की टंडवा की मुख्य पुल गेरुआ पुल केटूट जाने के बाद एनटीपीसी परियोजना द्वारा बनाये जा रहे पुल के सामने वाले डायवरशन से कोल वाहनों का परिचालन किया जा रहा है जो आगे चलकर जोड़ा तालाब के सामने से मुख्य पथ पर से अस्नातरी के रास्ते प्रतिदिन सैकड़ो बेलगाम हाइवा का परिचालन होता है।वही कम्पनी द्वारा इस मुख्य पथ प्रदूषण रोकने के लिए न ही पानी का छिडकांव किया जाता है ।और न ही दुर्घटनाओं को रोकने के लिए किसी तरह की गार्ड की व्यवस्था की गई है ।वही पुरे सड़क पर कोयला ढुलाई कार्य मे लगे हाइवा द्वारा सड़क पर आम आवामो को चलने लायक जगह भी नही छोड़ी जाती ।एवं आम जनमानस जान हथेली पर रखकर सड़क पर चलते है एवँ धुल गर्दा खाते हुए मुख्य बाजार टंडवा पहुंचते है ।बताया गया है की इस दिन रात के उड़ते धूल गर्दे के बीच लोगो को कई बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है ।बालकृष्ण यादव ने इन बिंदुओ पर सिमरिया विधानसभा के विधायक किशुन कुमार दास से सकारत्मक पहल करने की मांग दोहराई है जिससे आम आवाम को कोई नुकसान न हो ।

Recent Posts

%d bloggers like this: