November 29, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

अब्बास नकवी ने जमात-ए-इस्लामी और PFI समझौते को लेकर कांग्रेस पार्टी पर साधा निशाना

नई दिल्ली:- भाजपा नेता एवं केन्द्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने जमात-ए-इस्लामी और पीएफआई के साथ समझौते को लेकर कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस जिस तरह की पार्टियों का साथ दे रही है उससे वह उग्रवादी बनती जा रही है। इतना ही नहीं उन्होंने पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को भी इस गठबंधन के मामले पर घेरा। नकवी ने कहा कि कांग्रेस का गठबंधन सेकुलर नहीं बल्कि रेडिकल यानि उग्र है। भाजपा नेता ने आरोप लगाया कि जिस तरह से कांग्रेस जमात-ए-इस्लामी और पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) के साथ गठजोड़ कर रखा है वह कांग्रेस पार्टी को रेडिकल पार्टी बना रहा है। उन्होंने कहा कि जब राहुल गांधी वायनाड से चुनाव लड़ने गए तब भी उनके चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस के झंडे से अधिक जमात के झंडे दिख रहे थे। राहुल के हालिया केरल दौरे में हाथरस में दंगा भड़काने के आरोपित पीएफआई के गिरफ्तार सदस्य के परिवार वालों से मिलना इस बात को दर्शाता है। केन्द्रीय मंत्री ने आरोप लगाया कि कांग्रेस यह सब सत्ता के लालच के कारण कर रही है। ऐसे में कांग्रेस पार्टी को जमात-ए-इस्लामी, पीएफआई और इस प्रकार की अन्य दूसरी पार्टियों से अपनी योजनाओं को लेकर रुख स्पष्ट करना चाहिए। वहीं नकवी ने रेडिकल संगठनों के साथ समझौते क मुद्दे पर कांग्रेस के सहयोगी दलों से भी जवाब मांगा है। उन्होंने राजद नेता तेजस्वी यादव से पूछा कि क्या वे कांग्रेस के सहयोगी जमात और पीएफआई के साथ हैं। यही सवाल उन्होंने शिवसेना से भी पूछा है। इससे इतर आज सुबह क राहुल गांधी के ट्वीट को लेकर भी नकवी ने नाराजगी जताई। उन्होंने संघ प्रमुख मोहन भागवत के भाषण पर राहुल गांधी के ट्वीट का जवाब देते हुए कहा कि जब तर्क की कंगाली हो जाती है तो लोग मवाली हो जाते हैं। राहुल गांधी का ट्वीट बताता है कि उनका ऊपरी स्टोर (दिमाग) खाली है।

%d bloggers like this: