December 1, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

इन 4 कंपनियों को बेचकर 60 हजार करोड़ जुटाएगी सरकार

नई दिल्ली:- घरेलू शेयर बाजार में तेजी को देखते हुए सरकार नवंबर अंत तक 4 प्रमुख सरकारी उपक्रमों (PSUs) की बिडिंग प्रक्रिया को खत्म करने की योजना बना रही है। ये चार प्रमुख सरकारी उपक्रम – BPCL, शिपिंग कॉरपोरेशन (SCI), कंटेनर कॉरपोरेटशन (Concor) और BEML है। हालांकि, इन कंपनियों की शेयर प्राइस में गिरावट देखने को मिल रही है। इस मामले से जुड़े दो वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया है कि सरकार इस मौके से चूकना नहीं चाहती है, क्योंकि बाजार में अस्थिरता की वजह से कीमतों और भी गिर सकती हैं।
शुक्रवार तक इन लिस्टेड कंपनियों में सरकारी हिस्सेदारी की वैल्यू करीब 56,214 करोड़ रुपए है। एक मीडिया रिपोर्ट में इन अधिकारियों के हवाले से लिखा गया है कि उम्मीद की जा रही है कि BPCL और Concor में सरकार को बेहतर प्रीमियम दर मिलेगी क्योंकि इसमें बिजनेस के मौके हैं। साथ ही इन दोनों कंपनियों की परिसंपत्तियां भी इसकी एक वजह है।
फरवरी मध्य की तुलना में BPCL के शेयरों को देखें तो यह करीब 26 फीसदी तक कम है। इसी प्रकार Concor 32 फीसदी नीचे, BEML 34 फीसदी नीचे और SCI 13 फीसदी नीचे है। ये शेयर्स अभी कोरोना काल के पहले स्तर पर नहीं पहुंचे हैं। जनवरी में सरकार की 53 फीसदी हिस्सेदारी की वैल्यू करीब 55,000 करोड़ रुपए पर थी लेकिन, मौजूदा बाजार पूंजीकरण के लिहाज से यह घटकर करीब 40,000 करोड़ रुपए के स्तर पर आ गई है। बता दें कि चालू वित्त वर्ष में BPCL की बिक्री करना सरकार के लिए जरूरी है ताकि 1.2 लाख करोड़ रुपए के विनिवेश लक्ष्य को पूरा किया जा सके।

सरकार के लिए महत्वपूर्ण है विनिवेश के जरिए फंड जुटाना

निवेश और लोक परिसंपत्ति प्रबंधन विभाग (DIPAM) इन कंपनियों के लिए बोली मंगाएगी। इसके पहले केंद्र सरकार ने एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (EoI) मंगाने की डेडलाइन को 30 सितंबर से बढ़ाकर 16 नवंबर कर दिया था। चूंकि, मौजूदा समय में केंद्र सरकार अर्थव्यवस्था में पूंजी डालने के लिए कई विकल्पों की तलाश कर रही है, ऐसे में विनिवेश के जरिए फंड जुटाना महत्वपूर्ण हो जाता है।

Recent Posts

%d bloggers like this: