November 25, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

त्योहार को देखते हुए सतर्क और एक्टिव रहे मेडिकल टीमः- उपायुक्त

देवघर:- उपायुक्त कमलेश्वर प्रसाद सिंह की अध्यक्षता में स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए जा रहे कार्यों की समीक्षा बैठक का आयोजन समाहरणालय सभागार किया गया। इस दौरान उपायुक्त द्वारा कोविड के रोकथाम और की गई व्यस्थाओं को दिन प्रतिदिन और भी दुरुस्त करने का निर्देश दिया।
इसके अलावे समीक्षा के क्रम में उपायुक्त ने सिविल सर्जन डॉ विजय कुमार को निदेशित किया है कि कोरोना संक्रमण के दौरान जितने भी स्वास्थ्यकर्मी कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के देख-रेख/स्वास्थ्य जांच में लगे हुए है उन सभी का डेटा बेस सही तरीके से तैयार करे, ताकि ऐसी संभावना व्यक्त की जा रही है कि जब भी कोरोना वैक्सीन आएगी कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के जांच में लगे इन स्वास्थ्यकर्मियों को कोरोना से सम्बंधित टीकाकरण में प्राथमिकता दी जाएगी। आगे उन्होंने कहा कि कोरोना का टीका बहुत नाजुक जैविक पदार्थ है जो धीरे धीरे कमजोर होते जाते है अर्थात रोगो को रोकने की उनकी क्षमता कम होती जाती है। अतः टिके को सुरक्षित एवं सही तापमान में रखना बहुत जरूरी है। इसके लिए आवश्यक है शीत श्रृंखला (कोल्ड चैन) सही तरीके से काम करे। इस संदर्भ में उपायुक्त ने सिविल सर्जन को निदेश दिया कि जिले के सभी स्वास्थ्य केंद्रों में एक सफ्ताह के अंदर शीत श्रृंखला का मरम्मती करा लें ताकि कोरोना के टीके को संरक्षित रखा जा सके।
इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त ने प्रखण्ड वाईज संस्थागत डीलिवरी की समीक्षा करते हुए सभी संबंधित चिकित्सकों एवं संबंधित विभाग के अधिकारियों को निदेशित किया कि सभी अपने-अपने क्षेत्र में गर्भवती महिलाओं की सूची तैयार कर लें तथा उन सभी का डीलिवरी के उपरांत का शत प्रतिशत आकड़ा तैयार करा ले। साथ ही उपायुक्त ने जिले में जन्म लेने वाले नवजात शिशुओं को 1 घंटा के अंदर माता का दूध पिलाना, टीकाकरण एवं अन्य सारी व्यवस्था, नवजात बच्चे को उपलब्ध करायी जाने वाली सुविधाओं की समीक्षा करते हुए नवजात शिशुओं को हर तरह की सुविधा उपलब्ध कराने का निदेश संबंधित अधिकारियों को दिया। इसके अलावे बैठक के दौरान जिले में मलेरिया/फाइलेरिया, डेंगू/चिकनगुनिया के लार्वा को समाप्त करने एवं लोगो को इनके प्रभाव से बचाने व जागरूक करने हेतु घर-घर जाकर किये जाने वाले सर्वे के कार्यो की समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने संबंधित अधिकारी को निर्देशित किया कि जिले का एक भी घर इस सर्वे से ना छुटे, इसका विशेष रूप से ध्यान रखें।
समीक्षा बैठक के दौरान उपायुक्त श्री कमलेश्वर प्रसाद सिंह ने ट्रुनेट के माध्यम से संक्रमित व्यक्तियों के जांच मामले में देवघर जिला की प्रगति को और भी बेहतर करने का निदेश सिविल सर्जन को दिया। साथ ही रैपिड एंटीजेन टेस्ट, ट्रूनेट के अलावे आर०टी०पी०सी०आर० के माध्यम से भी लोगो की जांच की जाय एवं इस हेतु राज्य से समन्वय स्थापित करते हुए किट की उपलब्धता सुनिश्चित करा लें, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों की जांच की जा सके। साथ हीं उपायुक्त ने वैसे व्यक्ति जिनका कोविड टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आया है, वैसे सभी लोगों को कोविड केयर सेंटर में रखने के कार्यो की समीक्षा करते हुए सिविल सर्जन को निदेशित किया कि जिस भी व्यक्ति का कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आया है। उनको कोविड केयर सेंटर में भर्ती कराया जाय साथ ही जो होम आइसोलेशन में है। उन सभी पर समुचित निगरानी रखी जाय ताकि किसी भी संक्रमित व्यक्ति द्वारा किसी भी परिस्थिति में क्वारंटाइन नियमों का उल्लंघन न हो पायें। बैठक में उपायुक्त द्वारा देवघर जिला का रिकवरी रेट, आईसीयू बेड, वेंटीलेटर स्वास्थ्य सुविधा आदि की उपलब्धता को लेकर संबंधित अधिकारी को आवश्यक व उचित दिशा-निर्देश दिया गया।
इस दौरान बैठक में उपरोक्त के अलावे सिविल सर्जन डॉ. विजय कुमार, एवं संबंधित विभाग के अधिकारी, चिकित्सक आदि उपस्थित थे।

Recent Posts

%d bloggers like this: