November 28, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

संजय राउत ने CBI को लेकर दिया बड़ा बयान, केंद्रीय एजेंसी पर लगाया बड़ा आरोप

मुंबई:- महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने बुधवार को केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) को दी गई ‘सामान्य सहमति’ को वापस ले लिया है। ऐसे में अब जांच एजेंसी को किसी भी मामले की जांच शुरू करने की अनुमति के लिए राज्य सरकार से संपर्क करना होगा। इसी बीच अब पार्टी के राज्यसभा सांसद और प्रवक्ता संजय राउत ने सरकार के इस फैसले को जायज ठहराया है। राउत ने कहा, ‘CBI छोटे-छोटे मामलों में भी घुसने लगी। सीबीआई का अपना एक वजूद है। महाराष्ट्र जैसे राज्य में अगर कोई राष्ट्रीय कारण हैं तो उन्हें जांच करने का अधिकार है।’ उन्होंने कहा कि मुंबई या महाराष्ट्र पुलिस ने किसी विषय पर जांच शुरू की, किसी और राज्य में FIR दाखिल की जाती है। वहां से केस CBI को जाता है और CBI महाराष्ट्र में आ जाती है। अब ये नहीं चलेगा, महाराष्ट्र और मुंबई पुलिस का अपना एक अधिकार है, जो संविधान ने दिया है। दरअसल टीआरपी घोटाला को लेकर एक विज्ञापन कंपनी के प्रमोटर की शिकायत पर लखनऊ के हजरतगंज पुलिस स्टेशन में केस दर्ज किया गया था। इसको बाद में यूपी सरकार ने सीबीआई को सौंप दिया था। टीआरपी का यह कथित घोटाला उस समय सामने आया था जब रेटिंग एजेंसी ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (BARC) ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी, जिसमें आरोप लगाया गया था कि कुछ चैनल विज्ञापनदाताओं को लुभाने के लिए टीआरपी रेटिंग्स में धांधली कर रहे। इससे पहले सुशांत सिंह राजपूत मौत केस में बिहार सरकार ने सीबीआई जांच की सिफारिश की थी। जिसे केंद्र सरकार ने मंजूर कर लिया था। अब इस मामले की जांच केंद्रीय एजेंसी कर रही है। बता दें कि सुशांत केस को लेकर महाराष्ट्र सरकार की केंद्र और बिहार सरकार के साथ तल्खी खुलकर सामने आई थी।

Recent Posts

%d bloggers like this: