November 27, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

गृहमंत्री नरोत्तम का बड़ा बयान, हमारे संपर्क में कई नेता, उपचुनाव में जीतेंगे सभी सीटें

भोपाल:- मध्य प्रदेश के गृह एवं जेल मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बड़ा बयान दिया है। गुरुवार को मीडिया से बातचीत करते हुए उन्होंने कांग्रेस विधायकों की तोड़-फोड़ को लेकर कहा कि हमारे संपर्क में बहुत लोग हैं, लेकिन हमें ओवरलोड नहीं होना। उन्होंने कहा है कि हमारे पास पर्योत्त संख्या बल है और हम उपचुनाव में सभी 28 सीटें जीत रहे हैं। इस दौरान बिसहुलाल का एक और वीडियो वायरल होने पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि फेंक वीडियो, झूठे वीडियो जारी करना कांग्रेस की स्टाइल है। यह आठ साल पुराना वीडियो है, उनका पूरा जीवन सार्वजनिक है, उन पर एक भी पुलिस केस दर्ज नहीं है। इमरती देवी को लेकर कमलनाथ के बयान पर मंत्री मिश्रा ने कहा कि यह तो तय की कमलनाथ ने गलत बोला है। चुनाव आयोग, राहुल गांधी, महिला आयोग सभी कह चुके हैं कि यह आपत्तिजनक है। यहां तक कांग्रेस के सीनियर नेता मानक अग्रवाल ने कहा दिया कि यह ठीक नहीं। कमलनाथ का यह बयान उनका वाटरलू साबित होगा। कमलनाथ का महिलाओं से राखी बंधवाने पर बोले कि कमलनाथ पुन: वैसी ही गलती है जैसी गलती वो पहले कर गए है, सडक़ पर आ जाओ वाली, यह बयान उनके लिए वाटरलू साबित होगा।
कोरोना की स्थिति बेहतर
इस दौरान मंत्र मिश्रा ने प्रदेश में कोरोना की स्थिति के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि मप्र में कोरोना का रिकवरी रेट 90 फीसदी हो गई है। मप्र की सरकार कोविड को लेकर अच्छा काम कर रही है, कई जगह ये रेट 100 फीसदी तक पहुंच गया है। उन्होंने कहा कि रिकवरी रेट बढऩे के बाद भी हमें सावधानी रखना चाहिए, प्रधानमंत्री द्वारा बताई गई हर बात का पालन करना चाहिए।
1 नवम्बर से जेल बंद कैदियों से मिल सकेंगे परिजनों
इस दौरान मंत्र मिश्रा ने बताया कि जेल में बंद बंदियों के लिए त्योहार से पहले सरकार ने बड़ा फैसला किया है। जेल में बंद 45 हजार बंदियों के परिजन 1 नवंबर से जेल में मिलाई कर सकेंगे। इसके अलावा टेलीफोन ओर वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये भी कैदियों से मुलाकात जारी रहेगी। गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण के चलते शासन ने कैदियों के परिजनों से मुलाकात पर रोक लगा दी थी। कुछ समय बाद कैदियों की सुविधा के लिए वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की सुविधा शुरू की गई थी। लेकिन अब परिजन फिर से जेल में जाकर कैदियों से मिल सकेंगे।

Recent Posts

%d bloggers like this: