December 4, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सरकारी उड़ान प्रशिक्षण संस्थान ने ड्रोन उड़ाने के प्रशिक्षण के लिये समझौता किया

मुंबई:- उड़ानों का प्रशिक्षण देने वाले सरकारी संस्थान इंदिरा गांधी राष्ट्रीय उड़ान अकादमी ने उत्तर प्रदेश के अमेठी परिसर में ड्रोन पायलट प्रशिक्षण पाठ्यक्रम शुरू करने के लिये ड्रोन डेस्टिनेशन के साथ समझौता किया है। ड्रोन डेस्टिनेशन दिल्ली में स्थित ड्रोन निर्माता कंपनी हबलफ्लाई टेक्नोलॉजीज की सहयोगी इकाई है। संस्थान इस समझौता ज्ञापन (एमओयू) के तहत अपने अत्याधुनिक बुनियादी ढांचे की सुविधा प्रदान करेगा। ड्रोन डेस्टिनेशन ड्रोन पायलटों को प्रशिक्षित करने में अपनी विशेषज्ञता प्रदान करेगा। संस्थान ने बृहस्पतिवार को जारी एक बयान में कहा कि उसने भारतीय उड्डयन क्षेत्र में तेजी से हो रहे तकनीकी बदलाव तथा बढ़ती मांग को हमेशा पूरा किया है। उसने अपने विस्तार कार्यक्रमों के तहत ड्रोन पायलट प्रशिक्षण पाठ्यक्रम शुरू करने के लिये ड्रोन डेस्टिनेशन के साथ करार किया है।

Recent Posts

%d bloggers like this: