November 28, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बिहार चुनाव: पुष्पम प्रियम चौधरी की याचिका पर हाईकोर्ट ने निर्वाचन आयोग को जारी किया नोटिस

पटना/नई दिल्ली:- दिल्ली हाईकोर्ट ने बिहार विधानसभा चुनाव लड़ रही प्लूरल्स पार्टी को पूरे राज्य में एक समान चुनाव चिह्न आवंटित करने के लिए दिशा-निर्देश जारी करने की मांग पर सुनवाई करते हुए निर्वाचन आयोग को नोटिस जारी किया है। जस्टिस जयंत नाथ की बेंच ने निर्वाचन आयोग से चार हफ्ते में जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया। मामले की अगली सुनवाई 21 दिसंबर को होगी। प्लूरल्स पार्टी के अध्यक्ष पुष्पम प्रियम चौधरी ने याचिका दायर की है। याचिकाकर्ता की ओर से वकील अमित कुमार शर्मा और सत्यम सिंह राजपूत ने कहा कि बिहार में उनकी पार्टी की ओर से खड़े उम्मीदवारों को चेसबोर्ड चुनाव चिह्न आवंटित किया जाए। बिहार में मतदान तीन चरणों में होगा। बिहार में मतदान 28 अक्टूबर से शुरू होकर 7 नवंबर को खत्म होगा। याचिका में कहा गया है कि निर्वाचन आयोग ने उनकी पार्टी का रजिस्ट्रेशन नहीं किया जिसकी वजह से उनकी पार्टी के उम्मीदवार बिहार विधानसभा के चुनाव में नामांकन दाखिल नहीं कर सके। याचिका में कहा गया है कि एक राजनीतिक दल के रुप में रजिस्ट्रेशन के लिए उनकी पार्टी ने सभी शर्तें पूरी की हैं, उसके बावजूद निर्वाचन आयोग ने रजिस्ट्रेशन नहीं किया है। याचिका में मांग की गई है कि प्लूरल्स पार्टी के सदस्यों को नामांकन दाखिल करने की अनुमति दी जाए। और उनकी पार्टी की ओर से नामांकन दाखिल करने वाले सभी सदस्यों को एक कॉमन सिंबल चेसबोर्ड आवंटित किया जाए ताकि वे चुनाव लड़ सकें।

Recent Posts

%d bloggers like this: