December 2, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कटिहार के कई विधानसभा क्षेत्रों में उम्मीदवार पुराने परंतु चुनाव चिन्ह बदल गए

कटिहार:- कटिहार जिले में सात नवम्बर को होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव में गठबंधन और पार्टी से ज्यादा उम्मीदवारों के चेहरे व काम पर वोट पड़ने की संभावना जताई जा रही है। मतदाताओं के लिए इस बार विकल्पों की भरमार ही भरमार है। कहीं चेहरे पुराने हैंं परंतु चुनाव चिन्ह बदल गया है। किसी को टिकट नहींं मिला तो मतदाताओं के जोश की वजह से उन्हें अपने ही गठबंधन व पार्टी चिन्ह से टिकट मिले हुए उम्मीदवार के विरुद्ध चुनाव मैदान में खड़ा होना पड़ा। जिले में करीब आधा दर्जन से ज्यादा उम्मीदवार ऐसे हैंं जो अपनों पर ही भरी पड़ने वाले हैं। खैर ये तो मतगणना परिणाम के बाद ही स्पष्ट हो पायेगा। कहीं उम्मीदवार पुराने हैं परंतु चुनाव चिन्ह बदल गया है। ऐसी विधानसभा सीटों पर एक नजर डालें तो कटिहार विधानसभा सीट से एनडीए की ओर से भाजपा ने तारकिशोर प्रसाद को फिर से उम्मीदवार बनाया है जबकि इस सीट से राजद ने पूर्व शिक्षा राज्यमंत्री डॉ. रामप्रकाश महतो का महागठबंधन उम्मीदवार बनाया है। यह सीट राजद की झोली में जाने की वजह से असंगठित कामगार कांग्रेस के बिहार प्रदेश अध्यक्ष राजेश गुरनानी ने निर्दलीय से चुनाव लड़ने का निर्णय लिया है। कदवा विधानसभा क्षेत्र से एनडीए की ओर से जदयू ने यह सीट भाजपा से ले ली है। जदयू ने यहां से नगर निगम के डिप्टी मेयर सूरज प्रकाश राय को उम्मीदवार बनाया है जबकि महागठबंधन की ओर से विधायक डॉ. शकील अहमद खान को कांग्रेस ने फिर से उम्मीदवार बनाया है। पिछले चुनाव में भाजपा प्रत्याशी रहे डॉ. चंद्रभूषण ठाकुर का चुनाव चिन्ह बदल गया है। इस बार वे लोजपा के टिकट पर यहां से चुनावी समर में कूदेंगे। बलरामपुर विधानसभा सीट इस बार एनडीए में सीट बंटवारे को लेकर वीआईपी के खाते में चली गयी है। वीआईपी ने यहां से वरुण कुमार झा को अपना प्रत्याशी बनाया है। जबकि महागठबंधन की ओर से विधायक महबूब आलम भाकपा माले की ओर से प्रत्याशी हैंं। लोजपा ने यहां से संगीता देवी को टिकट दिया है। प्राणपुर विधानसभा क्षेत्र एनडीए की ओर से पूर्व मंत्री विनोद कुमार सिंह के निधन के बाद उनकी पत्नी निशा सिंह को भाजपा ने उम्मीदवार बनाया है। महागठबंधन की ओर से कांग्रेस ने तौकीर आलम को टिकट दिया तो कांग्रेस नेता इशरत परवीन और राजद के किशोर कुमार मंडल निर्दलीय चुनावी मैदान में हैं। मनिहारी विधानसभा सीट से एनडीए की ओर से जदयू ने जिला पार्षद शंभू कुमार सुमन को उम्मीदवार बनाया है जबकि महागठबंधन की ओर से विधायक मनोहर प्रसाद सिंह को कांग्रेस ने अपना उम्मीदवार बनाया है। यहां से लोजपा ने अनिल कुमार उरांव को चुनाव मैदान में उतारा है। बरारी विधानसभा क्षेत्र भी इस बार एनडीए में सीट बंटवारे के तहत जेडीयू ने बीजेपी से ले ली है। जदयू ने यहां से नगरनिगम के महापौर विजय सिंह को अपना उम्मीदवार बनाया है जबकि इसी सीट से जदयू नेता सह कटिहार के पूर्व जिलाधिकारी लालनजी बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के चुनाव चिन्ह पर चुनाव लड़ेंगे। भाजपा के वरिष्ठ नेता व पूर्व विधायक विभाष चंद्र चौधरी इस सीट से लोजपा के चुनाव चिन्ह पर चुनाव मैदान में हैं। महागठबंधन की ओर से इस सीट पर विधायक नीरज कुमार को राजद ने अपना उम्मीदवार घोषित किया है। कोढ़ा विधानसभा क्षेत्र से महागठबंधन की ओर से विधायक पूनम कुमारी उर्फ पूनम पासवान को कांग्रेस ने अपना प्रत्याशी बनाया है जबकि एनडीए की ओर से भाजपा ने पूर्व विधायक महेश पासवान की पत्नी कविता पासवान को अपना उम्मीदवार घोषित किया है।

Recent Posts

%d bloggers like this: