October 21, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

हेमंत सरकार ने खजाना खाली होने के बहाने सभी कल्याणकारी योजनाएं बंद की : बाबूलाल

दुमका:- झारखंड भारतीय जनता पार्टी ( भाजपा) विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सरकार पर खजाना खाली होने के बहाने राज्य सरकार की सभी कल्याणकारी योजनाओं को बंद करने का आरोप लगाया है। श्री मरांडी ने बुधवार को यहां आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि राज्य में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी (मनरेगा), प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना सहित सिर्फ केन्द्र सरकार की योजनाओं पर ही काम चल रहा है जबकि राज्य सरकार प्रायोजित सभी योजनाएं ठप पड़ी है। उन्होंने कहा कि झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) का नारा ‘हेमंत है तो हिम्मत है’ पूरी तरह से बकवास है। पिछले नौ महीने के कार्यकाल के दौरान राज्य सरकार की अदूरदर्शिता और जनहित में कोई निर्णय नहीं लेने की वजह से हेमंत सोरेन सबसे कमजोर मुख्यमंत्री साबित हुए हैं। भाजपा विधायक दल के नेता ने कहा कि राज्य में महिला उत्पीड़न की घटनाओं में वृद्धि हुई है। साहेबगंज में नाबालिग के साथ दुष्कर्म कर उसकी हत्या किये जाने के मामले को रफा दफा करने का प्रयास किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। इसी तरह मुख्यमंत्री के विधानसभा क्षेत्र में थाने में पुलिस पदाधिकारी के एक बच्ची के साथ मारपीट और अभद्र व्यवहार करता है लेकिन दोषी के खिलाफ ठोस कार्रवाई करने की बजाए मामले पर संज्ञान लेने वाले पुलिस उप महानिरीक्षक का तबादला कर दिया जाता है। श्री मरांडी ने कहा कि ऐसी मामलों से साफ जाहिर है कि राज्य की सबसे सरकार में बिचौलिये और पुलिस की हिम्मत बढ़ गयी है। उन्होंने आरोप लगाया कि बिचौलिये ही राज्य सरकार को चला रहे हैं।
भाजपा नेता ने कहा कि हेमंत सरकार खजाना खाली होने का रोना रो रही है लेकिन पार्टी और उनके ही परिवार की नेताओं द्वारा अवैध खनन के मामले गड़बड़ी किये जाने पर विरोध जताने के बावजूद राज्य सरकार गड़बड़ी को दुरुस्त करने को लेकर गम्भीर नहीं है। उन्होंने कहा कि खदान को ठीक ढंग से संचालित किया जाता तो राज्य के राजस्व में वृद्धि होती, लेकिन मुख्यमंत्री बिचौलियों को अवैध रूप से खदानों को संचालित करने की खुली छूट देकर राज्य का खजाना भरने के बजाय अपना खजाना भरने में लगे हैं। इस कारण केन्द्र प्रायोजित योजनाओं को छोड़कर राज्य सरकार द्वारा कार्यान्वित सभी योजनाएं ठप है। श्री मरांडी ने कहा कि हेमंत सोरेन सरकार कोराना जैसी महामारी से लोगों को बचाने के लिए बनाये गये कोविड अस्पतालों की साफ-सफाई सहित स्वास्थ्य व्यवस्था को दुरुस्त रखने एवं रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए संक्रमितों को ससमय पौष्टिक आहार मुहैया कराने में भी विफल साबित हुई है। भाजपा नेता ने कहा कि झामुमो ने चुनाव के दौरान बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने या रोजगार नहीं देने पर भत्ता देने का वायदा किया था लेकिन सरकार रोजगार तो दूर दस युवकों को भी रोजगार या भत्ता देकर अपनी घोषणा की शुरुआत तक नहीं कर सकी है। उन्होंने दावा किया कि बेरमो और दुमका उप चुनाव में भाजपा प्रत्याशी की जीत निश्चित है।

Recent Posts

%d bloggers like this: