October 25, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

माओवादी सब जोनल कमांडर बॉयदा पाहन ने तीन सहयोगियों के साथ किया सरेंडर

सरेंडर करने वाले नक्सलियों को एक-एक लाख का चेक सौंपा गया

रांची:- प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा-माओवादी के सबजोनल कमांडर बॉयदा पाहन ने अपने तीन सहयोगियों के साथ सोमवार को रांची में पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया।
रांची स्थित न्यू पुलिस लाइन सभागार में नई दिशा -एक नई पहल के तहत प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन के सदस्यों ने रांची प्रक्षेत्र के डीआईजी और रांची के उपायुक्त समेत अन्य पुलिस-प्रशासनिक अधिकारियों के समक्ष आत्मसमर्पण किया।
रांची प्रक्षेत्र के डीआईजी ने बताया कि बॉयदा पाहन पर 5 लाख का इनाम था और उसके खिलाफ खूंटी और रांची के विभिन्न थाना क्षेत्रों में तीन दर्जन से अधिक मामले दर्ज थे। राज्य सरकार की आत्मसमर्पण और पुनर्वास नीति के तहत सरेंडर करने वाले नक्सलियों को पुलिस की ओर से एक-एक लाख रुपये का चेक भी सौंपा और नीति के तहत अन्य सुविधा उपलब्ध कराने का भरोसा दिलाया गया।

आत्मसमर्पण के दौरान सौंपे हथियार

सब ज़ोनल एरिया कमांडर ने अपने तीनों साथियों के साथ पुलिस लाइन सभागार में अपने-अपने हथियार भी समर्पित किए। इस दौरान सभी उग्रवादियों को तत्काल एक – एक लाख रुपये का चेक दिया गया।

आत्मसमर्पण करने वालों के बच्चों को मुफ्त शिक्षा व स्वास्थ्य सुविधा

आत्मसमर्पण के बाद रांची के उपायुक्त छवि रंजन ने कहा कि उग्रवादी संगठन के जिन भी सदस्यों ने आत्मसमर्पण किया है, उनके परिवारजनों को सभी सरकारी योजनाओं से आच्छादित किया जाएगा। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत चारों को चार-चार डिसमिल ज़मीन आवंटित कर आवास योजना का लाभ दिया जाएगा। साथ ही, इन सभी को इंश्योरेंस स्कीम के तहत कवर किया जाएगा। इसके अतिरिक्त इनके बच्चों को मुफ़्त शिक्षा एवं स्वास्थ्य सुविधा सुनिश्चित की जाएगी।“
मौके पर पुलिस उप महानिरीक्षक दक्षिणी छोटा नागपुर, उपायुक्त ग्रामीण एसपी, सिटी एसपी सहित अपर समाहर्ता नक्सल एवं अन्य संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बॉयदा पाहन खूंटी जिला के सायको थाना क्षेत्र का रहने वाला है। उसके कई सहयोगियों को पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर लिया था, जिसके कारण वह काफी कमजोर पड़ गया था, वहीं पुलिस और परिवार वालों के बढ़ते दबाव कारण आत्मसमर्पण का निर्णय लिया।

Recent Posts

%d bloggers like this: