October 23, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कृषि बिल पर किसानों को जागरूक करने की कोशिश में जुटी भाजपा, दिल्ली में बनाई नई रणनीति

नई दिल्ली:- दिल्ली भाजपा ने कृषि बिलों को लेकर किसानों को जागरूक करने के उद्देश्य से रविवार को कई स्थानों पर ‘खाट पर बैठक’ का आयोजन किया। इस ‘खाट पर बैठक’ का आयोजन जगतपुर, बुराड़ी, झरोदा, वजीराबाद और गोपालपुर गांव किया गया, जिसमें दिल्ली भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने भाग लिया। बैठकों के माध्मय से गुप्ता ने किसानों एवं ग्रामीणों को कृषि बिलों से होने वाले लाभ और सकारात्मक बदलाव के बारे में जानकारी दी। आदेश गुप्ता ने कहा कि इस बिल के माध्यम से किसानों को उनकी उपज के विक्रय की स्वतंत्रता प्रदान करते हुए ऐसी व्यवस्था का निर्माण होगा जहां किसान एवं व्यापारी कृषि उपज मंडी के बाहर भी अन्य माध्यम से भी उत्पादों का सरलतापूर्वक व्यापार कर सकें। यह विधेयक राज्यों की अधिसूचित मंडियों के अतिरिक्त राज्य के भीतर एवं बाहर देश के किसी भी स्थान पर किसानों को अपनी उपज निर्बाध रूप से बेचने के लिए अवसर एवं व्यवस्थाएं प्रदान करेगा। उन्होंने कहा कि कृषक (सशक्तिकरण व संरक्षण) कीमत आश्वासन और कृषि सेवा पर करार विधेयक 2020, कृषकों को व्यापारियों, कंपनियों, प्रसंस्करण इकाइयों, निर्यातकों से सीधे जोड़ना है। उन्होंने कहा कि कृषि बिलों का विरोध वह राजनैतिक पार्टियां कर रही हैं जिन्होंने चुनाव के दौरान अपने मेनिफेस्टो में किसानों के लिए मंडियों के अलावा वैकल्पिक व्यवस्था का जिक्र किया था। गुप्ता ने आम आदमी पार्टी (आप) पर निशाना साधते हुए कहा कि पिछले 6 वर्षों में आप पार्टी ने दिल्ली के किसानों की सुध नहीं ली लेकिन देश के किसानों के हित की बात करने का तमाशा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अब जब मोदी सरकार कृषि बिलों के माध्यम से दिल्ली और देश के किसानों के जीवन में सकारात्मक परिवर्तन लाने का प्रयास कर रही है तो उसमें भी आम आदमी पार्टी (आप) सरकार सहित विरोधी दलों को तकलीफ हो रही है।

Recent Posts

%d bloggers like this: