October 25, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

प्रथम चरण में छह सीटों पर दम दिखाएगा ‘हम’

पटना:- बिहार विधानसभा के लिए 28 अक्टूबर को प्रथम चरण की 71 सीटों पर होने वाले चुनाव में हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) छह सीटों पर अपना दम दिखाने के लिये बेकरार है, इनमें दो सीटें ऐसी हैं जहां हम के नवोदित प्रत्याशी निवर्तमान विधायकों को चुनौती देने जा रहे हैं।
प्रथम चरण में होने वाले चुनाव में हम के छह उम्मीदवार इमामगंज (सुरक्षित), बाराचट्टी (सु), टिकारी, कुटुंबा (सु), मखदुमपुर (सु) और सिकंदरा (सु) सीट पर अपना ‘दम’ दिखाने के लिये तैयार हैं। इनमें कुटुंबा (सु) और सिकंदरा (सु) सीट पर हम के नवोदित प्रत्याशी निवर्तमान विधायकों को चुनौती देंगे। वहीं, तीन ऐसी सीटें हैं, जहां श्री जीतनराम मांझी समेत उनके दो रिश्तेदार भी जोर आजमाएंगे। इनमें इमामगंज (सु) से खुद श्री मांझी, बाराचट्टी (सु) से उनकी समधन ज्योति देवी और मखदुमपुर (सु) से श्री मांझी के दामाद इंजीनियर देवेंद्र कुमार मांझी शामिल हैं।
इमामगंज (सु) सीट से हम के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री तथा निवर्तमान विधायक जीतनराम मांझी चुनावी अखाड़े में अपना जौहर दिखाने जा रहे हैं, जहां उनकी टक्कर पूर्व विधानसभा अध्यक्ष और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) उम्मीदवार उदय नारायण चौधरी से होगी। वर्ष 2015 के चुनाव में भी दोनों कद्दावर नेता आमने-सामने थे। हालांकि उस चुनाव में उदय नारायाण चौधरी ने जनता दल यूनाईटेड (जदयू) के टिकट पर किस्मत आजमायी थी, जहां उन्हें हम उम्मीदवार जीतन राम मांझी से 29408 मतों के अंतर से हार का सामना करना पड़ा।
बाराचट्टी (सु) सीट से हम के टिकट पर पूर्व विधायक और जीतनराम मांझी की समधन ज्योति देवी चुनावी मैदान में उतरी हैं, जिनका सामना राजद उम्मीदवार और निवर्तमान विधायक समता देवी से होगा। वर्ष 2015 में राजद उम्मीदवार समता देवी ने लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) प्रत्याशी सुधा देवी को 19126 मतों के अंतर से शिकस्त दी थी।
टिकारी सीट से हम के टिकट पर पूर्व मंत्री डॉ.अनिल कुमार चुनावी मैदान में उतरे हैं। हम प्रत्याशी डा.अनिल कुमार का मुकाबला कांग्रेस प्रत्याशी सुमंत कुमार से होगा। कांग्रेस प्रत्याशी सुमंत कुमार पहली बार चुनाव लड़ रहे हैं। वर्ष 2015 में इस सीट पर जदयू के टिकट पर अभय कुमार सिन्हा ने जीत हासिल की थी। जदयू उम्मीदवार ने हम उम्मीदवार अनिल कुमार को 31813 मतों के अंतर से पराजित किया था। इस बार श्री सिन्हा बेलागंज सीट से जदयू के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं।
कुटुंबा (सु) से हम ने श्रवण भुइयां को पार्टी का उम्मीदवार बनाया है। श्री भूइंया पहली बार चुनावी मैदान में हैं, जहां उनका मुकाबला कांग्रेस प्रत्याशी और निवर्तमान विधायक राजेश कुमार से होगा। वर्ष 2015 के चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी राजेश कुमार ने हम उम्मीदवार संतोष कुमार सुमन को 10098 मतों के अंतर से पराजित किया था।
मखदुमपुर (सु) सीट से हम के टिकट पर जीतन राम मांझी के दामाद इंजीनियर देवेंद्र कुमार मांझी चुनाव लड़ रहे हैं। श्री मांझी की टक्कर राजद प्रत्याशी सतीश दास से होगी। वर्ष 2015 के चुनाव में राजद प्रत्याशी सूबेदार दास ने हम उम्मीदवार जीतन राम मांझी को 26777 मतों के अंतर से मात दी थी। राजद ने इस बार सूबेदार दास की जगह सतीश दास को पार्टी का उम्मीदवार बनाया है। वहीं इस बार जीतन राम मांझी की जगह इंजीनियर देवेंद्र कुमार मांझी हम के टिकट पर मैदान में हैं। दोनों प्रत्याशी पहली बार चुनाव लड़ रहे हैं।
इसी तरह सिकंदरा (सु) सीट से हम के टिकट पर प्रफुल्ल कुमार मांझी पार्टी उम्मीदवार बनाये गये हैं जहां उनकी टक्कर कांगेस प्रत्याशी और निवर्तममान विधायक सुधीर कुमार सिंह उर्फ बंटी से होगी। हम उम्मीदवार प्रफुल्ल कुमार मांझी पहली बार चुनाव लड़ रहे हैं। वर्ष 2015 के चुनाव में कांग्रेस पत्याशी सुधीर कुमार सिंह उर्फ बंटी ने लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) प्रत्याशी सुभाष चंद्र बोस को 7990 मतों के अंतर से शिकस्त दी थी।
गौरतलब है कि इस बार के विधानसभा चुनाव में राजग के घटक दलों में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), जदयू, हम और विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) शामिल है। वहीं, महागबंधन में राजद, कांग्रेस और वामदल में शामिल कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी-लेनिनवाद (भाकपा-माले), भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के उम्मीदवार मिलकर चुनाव लड़ेंगे।

Recent Posts

%d bloggers like this: