October 21, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

जेएमएम नेता और उसकी पत्नी की गला रेतकर निर्मम हत्या

वर्ष 2017 में भी जेएमएम नेता के पुत्र की हत्या कर दी गयी थी

धनबाद:- झारखंड में धनबाद जिले के सुदामडीह थाना क्षेत्र के भौंरा गांव में झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) जेएमएम नेता शंकर रवानी और उसकी पत्नी की अज्ञात अपराधियों ने गोली मार कर और फिर गला रेत कर निर्मम हत्या कर दी गई। दोनों का शव उनके घर के आंगन में खून से लथपथ मिला।
धनबाद के वरीय पुलिस अधीक्षक असीम विक्रांत मिंज ने बताया कि शंकर रवानी और उनकी पत्नी बालिका देवी की शनिवार की देर रात दोनों की हत्या कर दी गयी। दोनों का शव रविवार सुबह लहूलुहान अवस्था में भौरा स्थित घर से मिला है। मौके से पुलिस ने खोखा भी बरामद किया है। 50वर्षीय शंकर रवानी जेएमएम धनबाद महानगर कमेटी के उपाध्यक्ष भी थे।
सूत्रों के मुताबिक घटना की जानकारी सुबह में लोगों को दोनों के घर से नहीं निकलने पर इस घटना की जानकारी मिली। शंकर का एक पुत्र करण रवानी 22 वर्षीय बाहर में पढ़ता है। घटना की जानकारी पाकर सिंदरी के डीएसपी एके सिन्हा भौरा ओपी प्रभारी कालिका राम, सुदामडीह थाना प्रभारी व आदि थानों की पुलिस मौके पर पहुंचकर छानबीन कर रही है। डीएसपी ने बताया कि घटनास्थल से पुलिस ने चाकू और नाइन एमएम का एक खोखा जब्त किया है। प्रथम दृष्टया हत्या का कारण आपसी रंजिश और राजनीतिक द्वेष बताया जाता है। शंकर की हत्या की जानकारी पाकर सिंदरी में रहने वाली उनकी बहन व अन्य परिजन मौके पर पहुंचे। परिवार के लोग रो-रोकर बेहाल हैं।
बताया गया है कि वर्ष 2017 में आपसी रंजिश को लेकर झामुमो नेता शंकर रवानी के पुत्र 25 वर्षीय कुणाल रवानी की हत्या इसी तरह अपराधियों ने कर दी थी। तब रेनबो ग्रुप के चेयरमैन धीरेन रवानी की हत्या का आरोप कुणाल पर लगा था। इसके बाद कुणाल की नृशंस हत्या कर दी गयी थी। धीरेन रवानी और कुणाल की हत्या एक ही दिन हुई थी। इसके बाद से ही दोनों परिवार में आपसी रंजिश की आग और धधक उठी थी। मामला अभी भी थाना व कोर्ट में चल रहा है।

Recent Posts

%d bloggers like this: