October 24, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

अर्बन नक्सलवाद व पीएम मोदी की हत्या की साजिश की कोशिश के छानबीन में जुटी है एनआईए

पूर्व में भी स्टेन स्वामी के आवास में हो चुकी है छापेमारी, हार्ड डिस्क व ईमेल-फेसबुक के पासवर्ड को किया जा चुका है जब्त

रांची:- राष्ट्रीय जांच एजेंसी, एनआईए महाराष्ट्र के भीमा कोरेगांव में हिंसा, अर्बन नक्सलवाद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की कोशिश मामले में छानबीन में जुटी है। इस क्रम में महाराष्ट्र पुलिस और एनआईए द्वारा पूर्व में भी कई बार स्टेन स्वामी के रांची स्थित आवास में छापेमारी कर चुकी है।
एनआईए की टीम 6 अगस्त को भी दिल्ली से रांची आयी थी और करीब 3 घंटे तक भीमा कोरेगांव केस के संबंध में एनआईए ने फादर स्टेन स्वामी से पूछताछ की थी। इससे पहले 12 जुलाई 2019 को महाराष्ट्र पुलिस की आठ सदस्यीय टीम ने भी स्टेन स्वामी के घर पर छापामारी की थी और कंप्यूटर की हार्ड डिस्क और इंटरनेट माॅडेम जब्त किया था। उनसे उनके ईमेल और फेसबुक के पासवर्ड मांगकर पासवर्ड भी बदल दिये थे। दोनों अकाउंट भी जब्त कर लिये गये,ताकि डाटा की जांच की जा सके। 28अगस्त 2018 को भी महाराष्ट्र पुलिस ने उनके कमरे की तलाशी ली थी।
फादर स्टेन स्वामी झारखंड के जाने-माने सामाजिक कार्यकर्ता है। वे कई वर्षाें से झारखंड के आदिवासी और अन्य वंचित समूहों के लिए काम करते हैं। उन्होंने विशेष रूप से विस्थापन, संसाधनों की कंपनियों द्वारा लूट, विचाराधीन कैदियों व पेसा कानून पर काम किया। इस बीच उनका नाम भीमा कोरेगांव में हिंसा भड़काने की साजिश में बताया।
बताया गया है कि पुणे के भीमा कोरेगांव में 1 जनवरी 2018 को हिंसा भड़की थी। हिंसा की घटना के एक दिन पहले वहां यलगार परिषद के बैनर तले एक रैली भी हुई थी, आरोप है कि इसी रैली में हिंसा भड़काने की भूमिका तैयार की गयी थी। इस संगठन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश रचने का भ्ी आरोप लगाया था। पुलिस ने कई साक्ष्य भी बरामद किये थे। इस मामले में कई लोगों को गिरफ्तार भी किया गया था।

Recent Posts

%d bloggers like this: