October 25, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

भाजपा से बगावत कर झोपड़ी में कमल खिलाएंगे मृणाल शेखर

अमरपुर विधानसभा में जदयू के जयंत राज से करेंगे मुकाबला

बांका:- मृणाल शेखर के भाजपा से बगावत कर जदयू के खिलाफ चुनावी अखाड़े में ताल ठोकने से अमरपुर विधानसभा चुनाव दिलचस्प होने की संभावना है। पिछले चुनाव में मृणाल शेखर ने कड़ी टक्कर देते हुए 60 हज़ार से अधिक मत प्राप्त किया था। इस बार भजपा-जदयू में गठबंधन होने से यह सीट जदयू के पाले में चली गयी और टिकट विधायक पुत्र जयंत राज को मिल गया।
जदयू से जयंत को टिकट मिलते ही परिवारवाद का आरोप लगाते हुए भाजपा कार्यकर्ताओं ने विरोध का स्वर तेज किया और अब बीजेपी के पूर्व उम्मीदवर मृणाल शेखर झोपड़ी के साथ चुनावी मैदान में आ गए हैं। मृणाल शेखर ने कहा कि इस बार का चुनावी परिणाम ऐतिहासिक होगा और झोपड़ी में कमल खिल के रहेगा। बहरहाल, अमरपुर विधानसभा क्षेत्र की लड़ाई जदयू, कांग्रेस और लोजपा के बीच त्रिकोणीय प्रतीत होने लगी है। चुनावी समीकरण- अमरपुर विधानसभा क्षेत्र में कुल मतदाताओं की संख्या 2.94 लाख से अधिक है। मतदाताओं में अगर देखा जाए तो करीब 20 फीसदी से अधिक कुशवाहा मतदाता हैं, वहीं राजपूतों की संख्या भी करीब 18-19 फीसदी है। इसके अलावा मुस्लिम, पिछड़ा और अत्यंत पिछड़ा के साथ ही स्वर्ण मतदाताओं की संख्या चुनाव परिणाम को प्रभावित करने की स्थिति में है। अगर उम्मीदवार के तौर पर देखा जाए तो जदयू से कुशवाहा उम्मीदवर हैं, तो कांग्रेस और लोजपा से राजपूत प्रत्‍याशी चुनाव मैदान में हैं।

Recent Posts

%d bloggers like this: