October 21, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

80 वर्ष के ऊपर के मतदाता पोस्टल बैलट का प्रयोग कर सकते हैं : डी एम

किशनगंज:- विधानसभा निर्वाचन 2020 में स्वच्छ,निष्पक्ष व पारदर्शी निर्वाचन के निमित्त गुरूवार को पूर्वाह्न जिला निर्वाचन पदाधिकारी – सह किशनगंज जिलाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश की अध्यक्षता में अपने कार्यालय वेश्म में निर्वाचन संबंधी महत्वपूर्ण बैठक किया गया, जिसमें सभी निर्वाची पदाधिकारी, सभी कोषांग के नोडल पदाधिकारी,सिविल सर्जन एवं डीपीएम, हेल्थ कार्यालय वेश्म में उपस्थित होकर भाग लिए और सभी अंचलाधिकारी एवम प्रखंड विकास पदाधिकारी अपने-अपने प्रखंड से उक्त बैठक में वर्चुअल माध्यम से भाग लिए।
जिला निर्वाची पदाधिकारी सह डी एम श्री प्रकाश के द्वारा यहां आगामी 07 नवम्बर अंतिम चरण में होने वाले चुनाव के तैयारी में आवश्यक एवं महत्त्वपूर्ण निर्णय व दिशा निर्देश संबंधित सभी कोषांग नोडल पदाधिकारी व संबंधित विभाग के अधिकारी को दिया हैं।
जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी ने कहा की इस बार के चुनाव में दिव्यांग मतदाताओं, 80 वर्ष के ऊपर के मतदाता पोस्टल बैलट का प्रयोग कर सकते हैं। उन्होंने सभी निर्वाची पदाधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि संबंधित मतदाताओं को पोस्टल बैलट के माध्यम से मतदान करने हेतु सहमति प्राप्त करने के लिए निर्धारित 12डी प्रपत्र बीएलओ के माध्यम से 13 अक्टूबर 2020 से पूर्व अनिवार्य रूप से उपलब्ध करा देना देना है। तदनुसार सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी सह एआरओ ज़िला मुख्यालय से उक्त प्रपत्र प्राप्त कर ले। ध्यान रहे हर हाल में अधिसूचना के तिथि से 5 दिनों के अंदर 12 डी प्रपत्र में सहमति प्राप्त कर लेना है। तभी 13 से 17 अक्टूबर तक उक्त कार्य संपन्न होगा ।
उन्होंने वेबकास्टिंग, संवेदनशील बूथ पर केंद्रीय अर्द्ध सैनिक बलों की पर्याप्त प्रतिनियुक्ति ससमय कर लेने सहित हेल्प डेस्क स्थापित करने का सुनिश्चित करने का संबंधित नोडल अधिकारी को निर्देश दिया गया है।
जिला निर्वाचन पदाधिकारी – सह- जिलाधिकारी ने सभी कोषांग के द्वारा की गई तैयारी सहित विधानसभावार की जा रही तैयारियों की गहन समीक्षा की। मुख्यतः कोविड- 19 से सुरक्षात्मक तैयारी,मतदान केंद्रों पर तदनुसार लाइन लगवाने हेतु क्यू मैनेजर की प्रतिनियुक्ति,मतदान केंद्रों का सेनिटाइजेशन,आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन पर कार्रवाई, दिव्यांग व 80 वर्ष से ज्यादा उम्र के मतदाताओं तथा कोविड संक्रमित मतदाताओं को पोस्टल बैलेट उपलब्ध कराने,प्रखंडों में वाहन/कार्मिक/सामग्री कोषांग का सुचारू संचालन,केंद्रीय अर्द्ध सैनिक बलों के कम्पनियों के आगमन पर आवासन तथा प्रतिनियुक्ति, मतदान केंद्रों पर मूलभूत सुविधाओं ,राजनीतिक दलों या अभ्यर्थियों के सभा हेतु मैदान या स्थल का चिन्हितकरण व कोविड प्रोटोकॉल की सुनिश्चितता,मतदाता सूची का विखंडीकरण, ईवीएम का सीलिंग व डिस्पैच तथा प्रखंडों में कोरॉना वायरस से बचाव हेतु सुरक्षात्मक सामग्री की उपलब्धता के बिंदुओं पर विस्तृत चर्चा की गई और आवश्यक दिशानिर्देश दिया गया।
सर्वप्रथम जिला निर्वाचन पदाधिकारी सह जिलाधिकारी ने बिहार विधानसभा आम निर्वाचन 20 के दौरान कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत व्यापक सुरक्षा इंतेजाम किये जाने का निर्देश दिया।प्रत्येक मतदान केंद्र पर थर्मल स्क्रीनिंग करने हेतु प्रतिनियुक्ति किए जाने वाले कर्मियो के प्रशिक्षण और उनकी प्रतिनियुक्ति करने तथा सभी मतदान केंद्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग मार्कर के साथ दूरी छ: फीट का ध्यान रखकर कतार बनाने का निर्देश दिया। इस हेतु सभी मतदान केंद्रों पर queue मैनेजर की प्रतिनियुक्ति हेतु आवश्यक कार्रवाई का निर्देश भी दिया गया।
तादुपरांत बीएलओ संबंधित मतदाताओं से साक्ष्य सहित सहमति एवं असहमति की घोषणा प्राप्त कर बीएलओ पंजी में संधारित करेंगे एवं उनका हस्ताक्षर लेंगे। अंतिम रूप में मतदाताओं का सहमति एवं असहमति निर्धारित अवधि तक ले लेंगे। ज्ञातव्य है कि यदि कोई मतदाता पोस्टल बैलट के लिए सहमति व्यक्त कर दिया वे मतदान केंद्र पर मतदान के योग्य नहीं होंगे।
जिलाधिकारी ने सभी निर्वाची पदाधिकारी को 15 अक्टूबर तक निश्चित रूप से सभी मतदान केंद्रों पर आवश्यक मूलभूत सुविधाएं बहाल करने का निदेश दिया गया। उन्होंने कहा कि, यथावश्यकतानुसार मतदान केंद्र जहां देर शाम तक मतदान होने की संभावना है,चिन्हित कर समुचित लाइट की व्यवस्था की जाय।
जिलाधिकारी ने सभी निर्वाची और सहायक निर्वाची पदाधिकारी को निर्देश दिया कि आदर्श आचार संहिता उल्लंघन,अवैध धनराशि जब्ती और मादक द्रव्य की बरामदगी पर सुसंगत धाराओं के अन्तर्गत एफआईआर दर्ज कराए और छापेमारी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी सुनिश्चित कराएं। इस संबंध में एसडीएम शाहनवाज नियाजी को निर्देश दिया गया कि अविलंब सभी एफएसटी, एसएसटी, वीएसटी तथा वीवीटी के साथ बैठक कर उनकी सक्रियता सुनिश्चित कराए। छापामारी और जब्ती की प्रक्रिया विस्तार से बताया गया। इस संबंध में जिलाधिकारी ने स्पष्ट रूप से निर्देश दिया की अंतरराज्यीय और अन्तर्देशीय सीमा से लगने वाला जिला होने के कारण संभावना है कि अवैध राशि,शराब आदि का परिवहन हो,तदनुसार छापामारी दिवा व रात्रि दोनों समय किया जाय।
पदाधिकारियों/मजिस्ट्रेट के साथ वाहन टैगिंग हेतु व वीएमएस पोर्टल पर वाहनों की एंट्री सुनिश्चित कराने हेतु परिवहन कोषांग के नोडल अधिकारी को निर्देश दिया गया। साथ ही,बायोमेडिकल कचरा निस्तारण हेतु बूथ वार ट्रैक्टर टैगिंग का निर्देश दिया गया है।

संवाददाता सुबोध

Recent Posts

%d bloggers like this: