October 21, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कोरोना काल में एक बार फिर पटरियों पर दौड़ेगी तेजस

नयी दिल्ली:- प्राइवेट ट्रेन के रूप में परिचालन शुरू करने वाली तेजस एक्सप्रेस ट्रेन एक बार फिर से पटरियों पर दौड़ने वाली है। यह आगामी 17 अक्टूबर से फिर से चलने लगेगी। इस समय नई दिल्ली से लखनऊ और अहमदाबाद से मुंबई के बीच तेजस ट्रेन चलती है। उक्त तारीख से दोनों ट्रेनें चलने लगेंगी। इसके लिए ट्रेन चलाने वाली कंपनी ने तैयारी शुरू कर दी है।
इस ट्रेन को चलाने वाली सरकारी कंपनी इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन लिमिटेड (IRCTC) ने बताया कि वह तेजस एक्सप्रेस ट्रेनों (लखनऊ-नई दिल्ली और अहमदाबाद-मुंबई) के बेड़े के संचालन के लिए फिर से तैयार कर रही है। आने वाले त्योहारी सीजन के कारण बढ़ती यात्री मांग के लिए यह तैयारी की जा रही है। इस बार इसकी यात्रा 17 अक्टूबर से शुरू हो जाएगी। उल्लेखनीय है कि कोविड-19 की वजह से जब लॉकडाउन लगने वाला था, उससे पहले ही, 19 मार्च, 2020 से इन ट्रेनों का परिचालन बंद है।

रेलवे बोर्ड की मिल चुकी है हरी झंडी

आईआरसीटीसी के एक अधिकारी ने बताया कि इन दोनों ट्रेनों का ऑपरेशन फिर से शुरू करने के लिए रेलवे बोर्ड की हरी झंडी मिल चुकी है। अब इस बात की तैयारी कर रही है कि लोगों को निराश नहीं होना पड़े। करीब छह महीने से यह ट्रेन बंद है, इसलिए इसका गहन मेंटनेंस किया जा रहा है। ट्रेन के कोने कोने की साफ सफाई हो रही है। ऑपरेशन के शुरूआती दिनों में ट्रेन में एक सीट छोड़ कर एक सीट पर लोगों को बिठाया जाएगा ताकि कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा नहीं रहे।

सीट नहीं बदल सकेंगे

यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन अनिवार्य किया जाएगा। इसके लिए एक मानक ऑपरेशन प्रक्रिया जारी की गई है। यात्रियों को एक बार बैठने के बाद अपनी सीटों के अदला-बदली की अनुमति नहीं होगी। यात्रियों और कर्मचारियों के लिए फेस कवर/मास्क का उपयोग अनिवार्य होगा। सभी यात्री “आरोग्य सेतु” ऐप इंस्टॉल करेंगे और मांग के अनुसार ही दिखाए जाएंगे। टिकटों की बुकिंग के समय यात्रियों को विस्तृत निर्देश दिए जाएंगे।

सभी यात्रियों को मिलेगा ट्रेवल किट

इस ट्रेन में यात्रा शुरू करने से पहले आईआरसीटीसी की तरफ से यात्रियों को एक कोविड-19 सुरक्षा किट दिया जाएगा। इसमें हैंड सैनिटाइज़र की एक बोतल, एक मास्क, एक फेस शील्ड और एक जोड़ी ग्लब्स शामिल होंगे। सभी यात्री कोच में प्रवेश करने से पहले थर्मल स्क्रीनिंग और हाथ से सफाई की प्रक्रिया से भी गुजरेंगे।

स्टाफ को किया जा रहा है ट्रेंड

IRCTC ने तेजस ट्रेनों के कर्मचारियों के अपने दल को शिक्षित करने और प्रशिक्षित करने के लिए एक व्यापक प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया है। ऐसा इसलिए, ताकि ट्रेनों के संचालन का प्रबंधन किया जा सके और COVID-19 महामारी के बीच ‘न्यू नॉर्मल’ सेवाओं के अनुसार सेवाएं प्रदान की जा सकें। साथ ही यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए मानक संचालन प्रक्रिया का पालन किया जा सके।

Recent Posts

%d bloggers like this: