October 22, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

रांची प्रशासनिक मशक्कत के बाद कोयले की ढुलाई शुरू

आवेदन देने के साथ ही धरना के साथ लोगों को हटाया गया

हज़ारीबाग:- प्रशासनिक मशक्कत के बाद पिछले एक माह से बड़कागांव में व्याप्त गतिरोध दूर करने में सफलता जिला प्रशासन को मिला। बड़ी संख्या में प्रशासनिक अधिकारियों व पुलिस बल की मौजूदगी के कारण ग्रामीणों ने बहुत विरोध नहीं किया। आवेदन देने के बाद ग्रामीण रैयतों को पुलिस ने सड़क पर से हटा दिया। प्रशासनिक अधिकारियों ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि डंप में जो 5 लाख टन से अधिक कोयला पड़ा है उसे ढुलाई कर हटाया जाएगा।
कहा गया कि यह राष्ट्रीय संपति है और पिछले दिन कोयले में आग लग चुकी थी। भविष्य में कोयले के डंप में आग नहीं लगे इसे ही ध्यान में रखकर कोयले की ढुलाई को प्रारंभ किया जा रहा है। प्रशासनिक सुरक्षा के बीच ही सैकड़ों हाइवा को क्रस्ट डंप भेजा गया। हाइवा में कोयला लोड किये जाने की प्रक्रिया प्रारंभ हो गई है। समाचार लिखे जाने तक हाइवा में कोयला लोड किया जा रहा था और इसकी ढुलाई शुरू कर दी गई है। पूरे बड़कागांव क्षेत्र में न केवल धारा 144 लगा दी गई हैए बल्कि रैपए इंडिया रिज़र्व बटालियनए जैपए ए टी एस को भी लगाया गया है। चौक चौराहों से लेकर प्रत्येक गांव में दंडाधिकारियों के साथ पुलिस बल लगा है। ज्ञात हो कि ग्रामीण रैयत पिछले एक माह से भूमि अधिग्रहण कानून 2013 को लागू करने की मांग को लेकर करीब आधा दर्जन स्थानों पर सड़क पर बैठकर धरना व सत्याग्रह कर रहे थे। ग्रामीणों के आंदोलन के कारण कोयले की ढुलाई ठप थी और 5 लाख टन से अधिक कोयला डंप हो गया थाए जिसमे पिछले दिन आग भी लग गया थाए जिसपर काबू किया गया। आज के प्रशासनिक कार्रवाई के साथ 55 करोड़ रुपये मूल्य के डंप कोयले को ढुलाई कर हटाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है।

Recent Posts

%d bloggers like this: