October 31, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सैन्य निर्माण से जुड़ी तस्वीरें पाकिस्तानी वाट्सऐप ग्रुप में भेजनेवाला युवक गिरफ्तार

गोपालगंज:- बिहार के गोपालगंज के रहने वाले एक युवक को पाकिस्तानी एजेंट के रूप में सैन्य रक्षा क्षेत्र की कुछ तस्वीरे शेयर करने जुर्म में महाराष्ट्र के नागपुर से गिरफ्तार किया गया है। युवक गोपालगंज जिले के बरौली के सोनबरसा के आलापुर गांव का रहने वाला है। युवक का नाम संजीव कुमार है जो बरौली के आलापुर निवासी कमल भगत का पुत्र है। परिजनो के मुताबिक युवक लॉकडाउन के दौरान अपने घर पर ही रहता था, इस दौरान घर की आर्थिक हालत खराब होने लगी जिसके बाद वह डेढ़ महीने पहले ही महाराष्ट्र में मजदूरी करने के लिए चला गया था। लेकिन पाकिस्तानी व्हाट्सऐप ग्रुप में कुछ आपत्तिजनक संदिग्ध तस्वीरे शेयर करने के जुर्म में उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। युवक को 09 अक्टूबर तक के लिए पुलिस की हिरासत में भेजा गया है और उससे पूछताछ की जा रही है। गिरफ्तार युवक के बड़े भाई मंजय कुमार ने कहा वह कैसे इन लोगों के सम्पर्क में आया परिजनों को इसकी कोई जानकारी नहीं है। इस घटना के बाद से ही गांव में ही लोग तरह-तरह की बाते कर रहे हैं जबकि संजीव के परिजन डरे सहमे हैं। नागपुर के एक पुलिस अधिकारी ने बताया था कि 21 वर्षीय आरोपी संजीव कुमार को बीते शुक्रवार को कुछ सैनिकों ने उस समय पकड़ा था जब वह देओलली कैंप में सैन्य अस्पताल क्षेत्र की तस्वीरें क्लिक कर रहा था। जानकारों के मुताबिक इस क्षेत्र में फोटोग्राफी या वीडियो बनाना प्रतिबंधित है। जिसकी वजह से सैनिकों ने युवक को तत्काल हिरासत में लेकर उसका मोबाइल फोन जब्त कर लिया। मोबाइल की जांच में पता चला कि युवक ने कथित तौर पर पड़ोसी देश में एक व्हाट्सएप ग्रुप पर तस्वीरें भेजी थीं। आरोपी संजीव कुमार को शनिवार शाम को देओलली कैंप पुलिस को सौंप दिया गया। महाराष्ट्र पुलिस के मुताबिक हिरासत में लिया गया युवक बिहार के गोपालगंज जिले का रहना वाला है और यहां देओलली कैंप रेलवे स्टेशन के पास बस्ती में रहता है। वो सैन्य क्षेत्र में हो रहे निर्माण कार्य में मजदूरी कर रहा था। जिसे आधिकारिक रहस्य अधिनियम, 1923 की धारा 3 और 4 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Recent Posts

%d bloggers like this: