October 21, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

झामुमो ने बिहार विधानसभा की सात सीटों पर चुनाव लड़ने का ऐलान किया

आरजेडी का नया नेतृत्व जेएमएम को समझने में विफल रहा-सुप्रियो भट्टाचार्य

रांची:- महागठबंधन के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव पर राजनीतिक मक्कारी का आरोप लगाते हुए झारखंड मुक्ति मोर्चा ने बिहार विधानसभा चुनाव में अपने बलबूते पर चुनाव लड़ने का ऐलान किया है।
झारखंड मुक्ति मोर्चा के केंद्रीय महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने मंगलवार रांची में संवाददाता सम्मेलन में बताया कि पार्टी बिहार के 7 विधानसभा सीटों झाझर, चकई, कटौरिया, धमदाहा, मनिहारी, पिरपैंती और नाथनगर पर चुनाव लड़ेगी। उन्होंने कहा कि झारखंड मुक्ति मोर्चा का राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव से पुराना संबंध रहा है, एकीकृत बिहार में जेएमएम ने लालू प्रसाद यादव और उनकी पार्टी की सरकार बनाने में 3 बार मदद की लेकिन अब परिस्थितियां बदली है , नया राजनीतिक नेतृत्व झारखंड मुक्ति मोर्चा के महत्व को समझने में विफल रहा है।
उन्होंने कहा कि पार्टी यह चाहती थी कि भाजपा जैसी सांप्रदायिक और जदयू जैसे नकारात्मक शक्तियों को सत्ता से दूर रखने के लिए राजद गठबंधन के साथ मिलकर चुनाव लड़े , लेकिन 2 दिन पहले जिस तरह से तेजस्वी प्रसाद यादव ने अपने राजनीतिक मक्कारी के संदेश के बाद झामुमो की अनदेखी करने की कोशिश की है वह उसे महंगा पड़ेगा।
उन्होंने बताया कि जेएमएम ने कम सीटों पर और निर्णायक सीटों पर चुनाव लड़ने का निर्णय लिया है । उन्होंने उन विधानसभा सीटों का जिक्र भी किया जहां झारखंड मुक्ति मोर्चा अपना उम्मीदवार उतारेगा ।एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि झारखंड मुक्ति मोर्चा का कमान तीर की पार्टी है एक बार तीर कमान से निकल गया तो वापस नहीं होता पार्टी अपने फैसले पर अडिग रहेगी। उन्होंने यह भी दावा किया कि बिहार विधानसभा चुनाव परिणाम के बाद जब आरजेडी सरकार बनाने जाएगी तब उतनी ही सीटें की जरूरत पड़ेगी जिस पर झारखंड मुक्ति मोर्चा के उम्मीदवार विजयी होंगे।

Recent Posts

%d bloggers like this: