October 21, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

विकास के लिए एआई में विशाल संभावनाएं : प्रसाद

नई ‎दिल्ली:- आईटी मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने सोमवार को कहा कि कृत्रिम मेधा (एआई) में विकास के लिए विशाल संभावनाएं हैं और भारत अपने कुशल पेशेवरों की मदद से इस अवसर का फायदा उठाने के लिए तैयार है। उन्होंने रेज 2000 शिखर सम्मेलन में कहा कि प्रस्तावित डेटा संरक्षण कानून से देश की डेटा अर्थव्यवस्था को गति मिलेगी। एआई तभी सार्थक होगा, जब यह आम भारतीयों के जीवन की गुणवत्ता में सुधार लाएगा। प्रौद्योगिकी का विकास जारी हैद्व हम एआई का स्वागत करते हैं क्योंकि इसमें विकास करने की क्षमता है और ये समानता और आपूर्ति को बढ़ावा देता है1 हम यह भी चाहते हैं कि एआई विकास के इस समावेशी चरित्र को और बढ़ावा दे। भारतीय आईटी कंपनियां विश्व स्तर पर प्रतिस्पर्धी हैं और साथ ही भरोसा जताया कि देश के कुशल पेशेवरों का एक बड़ा हिस्सा न सिर्फ भारत, बल्कि दुनिया भर में एआई पारिस्थितिकी तंत्र का प्रबंधन करेगा।

Recent Posts

%d bloggers like this: