October 27, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

नदी की तेज धार में 17 घंटे से फंसा है मछुआरा /नदी के तेज धार में किसी तरह से चट्टान तक पहुंचने में कामयाबी हासिल की, प्रशासन स्थानीय ग्रामीणों के सहयोग से निकालने में जुटा

सिमडेगा:- सिमडेगा जिले के बानो थाना क्षेत्र के रामजोल के समीप दक्षिणी कोयल नदी की तेज धार के बीच एक मछुआरा करीब 17 घंटे से फंसा हुआ है। प्रशासन उसे निकालने की कवायद में जुटा हुआ है। हालांकि अबतक सफलता नहीं मिली है। मछली मारने के दौरान बानो के कोयल नदी में एक व्यक्ति के फंसने की सूचना मिलने के बाद बानो थाना प्रभारी प्रभात कुमार दल बल के साथ कल रात से ही उसे निकालने के प्रयास में जुटे हैं।
जानकारी के अनुसार बानो के रामजोल के निवासी विल्सन मड़की मछली मारने कोयल नदी में गया था। अचानक पानी बढ़ जाने से वह फंस गया और नदी के बीच चट्टानों पर चढ़ कर अपनी जान बचाई। लेकिन चारों तरफ पानी की तेज धारा के बीच चट्टान में वह फ़ंसा रहा। सूचना मिलते ही बानो पुलिस देर रात कोयल नदी पहुंची। पुलिस रात से ही वहां खड़ी है। थाना प्रभारी प्रयास कर रहे हैं कि किसी तरह इस व्यक्ति को नदी के बीच से बाहर लाया जा सके।
एनडीआरएफ की टीम बानो में नही है और न ही सिमडेगा जिला में ही मौजूद है। इस हालात में पुलिस के लिए मछुआरे को बचाना सबसे बड़ी चुनौती है। इंतजार किया जा रहा है कि जल स्तर घटे या कोई अच्छा तैराक हो जो उसे सही सलामत नदी से बाहर ला सके। अभी सुबह कुछ स्थानीय लोग भी वहां पंहुचे हैं। सभी प्रयास कर रहे हैं कि नदी के बीच फंसे विल्सन को बाहर निकाला जाए।

Recent Posts

%d bloggers like this: