October 20, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कृषि बिल के माध्यम से किसानों की आय दोगुनी करने के संकल्प को पूरा करने की ओर मोदी सरकार बढ़ चुकी : आदेश गुप्ता

नई दिल्ली:- प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने आवश्यक वस्तु (संशोधन) विधेयक, 2020, कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सरलीकरण) विधेयक 2020 तथा कृषक (सशक्तीकरण और संरक्षण) कीमत आश्वासन एवं कृषि सेवा पर करार विधेयक, 2020 के माध्यम से कृषि के क्षेत्र में क्रांतिकारी परिवर्तन का मार्ग प्रशस्त किया है। इन कृषि बिलों के माध्यम से किसान नई तकनीक के साथ जुड़ेंगे एवं कृषि उत्पादन क्षमता में भी वृद्धि होगी जिससे किसानों के जीवन में अहम बदलाव आएंगे लेकिन विरोधी दलों द्वारा किसानों किसानों के नाम पर राजनीति की जा रही है और कृषि बिल को लेकर भ्रामक प्रचार किया जा रहा है। किसानों को कृषि सुधारों से मिलने वाले लाभ से अवगत कराने और विरोधी दलों द्वारा कृषि सुधारों को लेकर किए जा रहे हैं नकारात्मक प्रचार को रोकने के लिए दिल्ली प्रदेश भाजपा की ओर से गृह संपर्क अभियान चलाया गया, जिसके तहत दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता, प्रदेश उपाध्यक्ष राजन तिवारी, दिल्ली भाजपा पूर्व अध्यक्ष एवं विधायक विजेंद्र गुप्ता ने बवाना गांव रोड के पुठ खुर्द गांव के घरों से संपर्क किया और उन्हें कृषि सुधारों से मिलने वाले लाभ की जानकारी दी। दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने मॉडल बंद विस्तार, दिल्ली भाजपा पूर्व अध्यक्ष व सांसद मनोज तिवारी ने सभापुर गांव, सांसद मीनाक्षी लेखी ने पिलंजी गांव, सांसद रमेश बिधूड़ी ने हरकेशनगर गांव, सांसद प्रवेश साहिब सिंह ने द्वारका, उत्तम नगर, विकासपुरी, नजफगढ़ और मटियाला के गांव सांसद गौतम गंभीर और प्रदेश महामंत्री दिनेश प्रताप सिंह ने सीलमपुर गांव, प्रदेश महामंत्री कुलजीत सिंह चहल ने चिराग दिल्ली गांव, प्रदेश महामंत्री हर्ष मल्होत्रा ने सभापुर चैहान पट्टी गांव में गृह संपर्क अभियान चलाया और लोगों से संपर्क किया एवं कृषि सुधारों से मिलने वाले लाभ के बारे में जानकारी हेतु पत्रक वितरित किए।
आदेश गुप्ता ने कहा कि 2014 में प्रधानमंत्री पद की शपथ लेते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह कहा था कि हमारी सरकार गरीबों को समर्पित सरकार है, हमारी सरकार किसानों को समर्पित सरकार है, हमारी सरकार मजदूरों को समर्पित सरकार है, हमारी सरकार वंचितों, पिछड़ों को मुख्यधारा से जोड़ने के लिए समर्पित सरकार है, कृषि बिल के माध्यम से मोदी जी ने अपने वक्तव्य को चरितार्थ किया है। मोदी जी दिन-रात गरीब, मजदूर, किसानों के विकास को लेकर चिंतन करते हैं और इसी का प्रत्यक्ष उदाहरण है कि किसानों के हित में जो बदलाव आजादी के 4-5 सालों में होना चाहिए था वह 74 साल के बाद मोदी जी के नेतृत्व में हुआ है। उन्होंने कहा कि जो विरोधी पार्टियां आज कृषि बिल का विरोध कर रही हैं उन्होंने नागरिकता कानून का भी विरोध किया था और साजिशन दिल्ली के अंदर दंगे करवाए थे, जिससे पूरे देश ने देखा। कृषि बिल को लेकर भी यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने शहीद भगत सिंह की तस्वीर लेकर इंडिया गेट पर ट्रैक्टर जलाएं। ट्रैक्टर हमारे लिए किसानों के लिए पूजनीय है इसलिए कोई किसान ट्रैक्टर नहीं जला सकता है। गुप्ता ने कहा कि प्रधानमंत्री बनने के बाद ही मोदी जी ने डॉ स्वामीनाथन की रिपोर्ट की सिफारिशों को लागू किया। यह काम कांग्रेस ने अपने कार्यकाल में कभी नहीं किया क्योंकि वह किसानों की बजाय बिचैलियों के साथ खड़ी थी और उन्हें न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृद्धि करनी पड़ती और वर्तमान में व किसानों को बरगलाने की कोशिश कर रहे हैं। कई बार स्वयं मोदी जी ने इस बात को साफ किया है कि न तो न्यूनतम समर्थन मूल्य की व्यवस्था और न ही कृषि मंडी की व्यवस्था खत्म होगी बल्कि कृषि सुधारों के माध्यम से किसानों को मंडियों के साथ-साथ एक नया प्लेटफार्म मिलेगा अपने फसल को बेचकर मुनाफा कमाने के लिए। पूर्व में भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में केंद्र की भाजपा सरकार ने किसानों के हित में कई फैसले लिए जैसे कि किसान सम्मान निधि योजना, लगभग 22.5 करोड़ किसानों को सॉयल हेल्थ कार्ड दिया गया, 10 लाख से ज्यादा एफपीओ बनाने के आदेश दिए गए, किसान बीमा योजना, किसान क्रेडिट कार्ड योजना की शुरुआत की गई जिससे करोड़ों किसानों को लाभ मिला। संसद के अंदर किसानों के हित में फैसले लिए गए इतिहास में दर्ज होने वाले फैसले हैं। आम आदमी पार्टी सरकार पर तंज कसते हुए गुप्ता ने कहा कि किसानों के नाम पर राजनीति करने वाले आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सदस्य ने संसद की गरिमा को ठेस पहुंचाया है। एक ओर आम आदमी पार्टी सरकार दिल्ली के किसानों के साथ वादाखिलाफी करती है तो दूसरी ओर संसद में किसानों के हित में बात करने का ढोंग करती है। दिल्ली के किसानों को आज तक दिल्ली सरकार ने न तो किसी सब्सिडी की सुविधा दी, न ही सिंचाई की कोई व्यवस्था की, वास्तव में दिल्ली सरकार को दिल्ली के किसानों की कोई चिंता नहीं है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी किसानों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलेगी। पूर्व प्रधानमंत्री श्रद्धेय स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेई जी के हर हाथ को काम, हर खेत को पानी के संकल्प को मोदी सरकार ने साकार किया है और किसानों की आय दोगुनी करने के संकल्प को पूरा करने की ओर मोदी सरकार बढ़ चुकी है।

Recent Posts

%d bloggers like this: