October 24, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

जेईई-एडवांस्ड के नतीजे घोषित, पुणे के चिराग फालोर ने हासिल किया पहला स्थान

फलोर के मिले 396 में से 352 अंक, लड़कियों में 17वीं रैंक हासिल कर कनिष्का मित्तल रहीं अव्वल

नई दिल्ली:- आईआईटी (दिल्ली) ने सोमवार को जेईई-एडवांस्ड परीक्षा के परिणाम घोषित किये, जिसमें पुणे के चिराग फलोर अव्वल रहे। देश भर के भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) में प्रवेश के लिए आईआईटी-दिल्ली ने इस वर्ष संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई)-एडवांस्ड आयोजित की थी। परीक्षा के लिये कुल 1.6 लाख छात्रों ने पंजीकरण कराया था और 1.5 लाख छात्र इसमें शामिल हुए थे। परीक्षा में 6,707 लड़कियों समेत 43,000 से ज्यादा प्रतिभागियों ने सफलता हासिल की। फलोर को जहां 396 में से 352 अंक हासिल हुए वहीं विजयवाड़ा के गांगुला भुवन रेड्डी दूसरे स्थान पर और वैभव राज तीसरे स्थान पर रहे। लड़कियों में कनिष्का मित्तल अव्वल रहीं जिन्होंने 17वीं रैंक हासिल की। उन्होंने 396 में से 315 अंक हासिल किये। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने परीक्षा में सफल होने वाले प्रतिभागियों को ट्विटर पर बधाई दी। उन्होंने कहा, मैं जेईई एडवांस्ड में इच्छित रैंक पाने वाले सभी छात्रों को बधाई देता हूं और उनसे अनुरोध करता हूं कि निकट भविष्य में आत्मनिर्भर भारत के लिये काम करें। जिन छात्रों को इच्छित रैंक नहीं हासिल हुई, उनके लिये भी प्रचूर अवसर उपलब्ध हैं। छात्रों को यह याद रखना चाहिए कि सिर्फ एक परीक्षा उन्हें परिभाषित नहीं कर सकती। जेईई-एडवांस्ड का आयोजन 27 सितंबर को कोविड-19 महामारी के मद्देनजर कड़े ऐहतियात के बीच किया गया था। जेईई-मेन्स जो देश भर के इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिले के लिए एक प्रवेश परीक्षा है, वह जेईई-एडवांस्ड के लिए एक पात्रता परीक्षा है। जेईई-मेन्स का आयोजन एक से छह सितंबर के बीच किया गया था। जेईई-मेंस में शामिल हुए 8.58 लाख प्रतिभागियों में से 2.5 लाख प्रतिभागी जेईई-एडवांस्ड में शामिल होने के लिये पात्र पाए गए थे।

Recent Posts

%d bloggers like this: