October 22, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

अब बायो बबल उल्लघंन पड़ेगा भारी, टूर्नामेंट से बाहर होगा दोषी खिलाड़ी टीम पर लगेगा एक करोड़ रुपये का जुर्माना

नई दिल्ली:- इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के दौरान अब कोरोना महामारी से बचाव के लिए बनाये गये जैव सुरक्षा घेरे (बायो-बबल) का उल्लंघन करना भारी पड़ेगा। इस मामले में दोषी खिलाड़ी को टूर्नामेंट से ही बाहर किया जा सकता है। इसके साथ ही ऐसा करने वाले खिलाड़ी की टीम पर भी एक करोड़ रुपये का भारी जुर्माना लगेगा। यहीं नहीं अंक तालिका में भी उसे नुकसान होगा। उसके कुछ अंक काटे जा सकते हैं। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने टूर्नामेंट में भाग लेने वाली सभी आठ फ्रेंचाइजी टीमों को इस बारे में जानकारी दे दी है। इसमें कहा गया है कि बायो-बबल से अनधिकृत रूप से बाहर जाने वाले खिलाड़ी को छह दिन के पृथकवास में जाना होगा। अगर कोई खिलाड़ी ऐसा दूसरी बार करता है तो उस पर एक मैच का प्रतिबंध भी लगाया जाएगा। तीसरी बार बायो-बबल का उल्लंघन करने पर उस खिलाड़ी को टूर्नामेंट से ही बाहर कर दिया जाएगा। साथ ही उसकी जगह टीम को कोई और खिलाड़ी रखने का विकल्प भी नहीं मिलेगा। वहीं इसके साथ ही खिलाड़ियों को दैनिक स्वास्थ्य पासपोर्ट पूरा नहीं करने, जीपीएस ट्रैकर नहीं पहनने और निर्धारित कोविड-19 जांच समय पर नहीं करवाने के लिए 60,000 रुपये के करीब का जुर्माना देना पड़ सकता है। यही नियम परिवार के सदस्यों और टीम अधिकारियों के लिए भी हैं। इस मामले में निगरानी के लिए अधिकारियों को सख्त आदेश दिये गये हैं।
अगर कोई फ्रेंचाइजी किसी व्यक्ति को बबल में खिलाड़ी या सहयोगी स्टाफ से बातचीत करने की अनुमति देती है तो उसे पहले उल्लंघन पर एक करोड़ रुपये का जुर्माना भरना होगा। वहीं दूसरी बार ऐसा करने पर एक अंक काट लिया जाएगा और तीसरे उल्लंघन के लिए दो अंक काट लिए जाएंगे।

Recent Posts

%d bloggers like this: