October 22, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

किशनगंज निबंधन कार्यालय के वरीय अधिकारी के द्वारा अवैध वसूली का भंडाफोड़

किशनगंज:- किशनगंज निबंधन कार्यालय के वरीय अधिकारी के द्वारा अवैध वसूली का भंडाफोड़।बिहार दस्तावेज नबिस संघ जिला इकाई के द्वारा जमीन निबंधन में निबंधन पदाधिकारी पर मनमानी व अवैध रकम वसूली का आरोप लगाया है।
शुक्रवार को यहां अपने कार्यालय में संघ के सचिव हरीकान्त यादव ने निबंधन पदाधिकारी पर सीधे मनमानी व बिना सुविधा शुल्क दिए जमीनी निबंधन में प्रक्रिया संभव नही होने का खुलासा किया है।
उन्होंने बताया कि बिना मोटी रकम के कोई भी जमीन का निबंधन सुलभ नही। उनको जिला के वरीय अधिकारी का भी भय नही ।संबंधित विभाग के अधिकारी का साफ कहना है कि हमारे इस हमाम में सब नंगे हैं ।मैं सभी को मेनैज कर सकती हूँ ।
उल्लेखनीय है कि वर्ष 2019 में निबंधन पदाधिकारी श्रीमती सीमा कुमारी ने यहां जिला निबंधन पदाधिकारी का पदभार ग्रहण किया था ।उसके बाद से ही जमीन निबंधन प्रक्रिया का रूप ही बदल गया है।हमलोगों से अवैध वसूली के लिए कहा जाता है अगर सुविधा शुल्क संबंधित अधिकारी के दलालों को नही पहुँचती तो जमीन के निबंधन में अर्चनें लगाकर निबंधन रोक दिया जाता है। जिला के वरीय अधिकारी तक भी संघ के अधिकारियों द्वार मामले में कई बार शिकायत की चुकी है । लेकिन शिकायत से संबंधित विभाग के अधिकारी पर कोई जांच या कार्रवाई नही हुई है। इसीलिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार एवं नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव सहित सभी संबंधित विभाग को लिखित शिकायत रजिस्ट्रर डाक से भेजा जा रहा है।जिसमें जिला के संबंधित अधिकारी व कर्मियों सहित दलालों के फलते -फुलते साम्राज्य पर पर उचित कार्रवाई की मांग की गई है।
इस बाबत मामले में आरोपी निबंधंन पदाधिकारी श्रीमती सीमा कुमारी कुछ भी प्रतिक्रिया देने से किया बहाना और फोन पर भी कोई प्रतिक्रिया देने की बात तो दूर मोबाइल काॅल तक रिसीव भी नही करती है।
मामले में जिला पदाधिकारी डाॅ आदित्य प्रकाश ने कहा है कि मैं किशनगंज लौटकर मामले में संज्ञान लूंगा कि हकीकत क्या है ।
मौके पर संघ अध्यक्ष मरगुब आलम सहित अन्य प्रमुख उपस्थित थे।

संवाददाता सुबोध

Recent Posts

%d bloggers like this: