October 28, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

विस चुनाव-2021 के मद्देनजर दुर्गा पूजा से पहले पश्चिम बंगाल का दौरा कर सकते हैं अमित शाह

कोलकाता:- पश्चिम बंगाल में 2021 में होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर केंद्रीय गृह मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता अमित शाह दुर्गा पूजा से पहले राज्य का दौरा कर सकते है। बंगाल बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने इस बात की जानकारी दी है। घोष ने कहा है कि गृह मंत्री 22 अक्टूबर से शुरू होने जा रही दुर्गा पूजा से पहले बंगाल का दौरा कर सकते हैं। राज्य पार्टी प्रमुख ने कहा कि अमित शाह का ये दौरा 2021 में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों के मद्देनजर होगा जिसमें कि वह पार्टी कार्यकर्ताओं से बातचीत करेंगे और उन्हें विधानसभा चुनाव के लिए दिशानिर्देश भी देंगे। अमित शाह अपने पश्चिम बंगाल दौरे पर विधानसभा चुनावों से पहले राज्य में पार्टी संगठन पर भी विचार करेंगे। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने बताया कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा इस महीने के अंत में पूजा के बाद बंगाल आएंगे। बंगाल भाजपा में मतभेद की अटकलों के बीच गुरुवार को शाह ने नड्डा के साथ मिलकर दिल्ली में राज्य के शीर्ष पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक की और संगठन संबंधी मुद्दों पर चर्चा की।
बैठक के बाद घोष ने बताया, ‘आज अमित शाह और जेपी नड्डा के साथ हमारी संगठन संबंधी बैठक हुई। हमने राज्य में अपनी प्रगति से जुड़े पहलुओं पर चर्चा की। पूरी संभावना है कि अमित शाह पार्टी के राज्यस्तरीय अन्य नेताओं के साथ संगठन संबंधी बैठक करने पश्चिम बंगाल आएंगे। उनकी यात्रा की तारीख बाद में बताई जाएगी।’ उन्होंने कहा कि नड्डा के पश्चिम बंगाल दौरे की तिथि अभी तय नहीं हुई है। गौरतलब है कि भाजपा की केंद्रीय इकाई में संगठनात्मक पुनर्गठन और वरिष्ठ नेता राहुल सिन्हा को राष्ट्रीय सचिव के पद से हटाने पर बंगाल में असंतोष पैदा हो गया था। सिन्हा ने पद से हटाए जाने पर रोष प्रकट किया था। शाह के साथ हुई इस बैठक में सिन्हा को भी उपस्थित होने के लिए कहा गया था। बैठक से पहले सिन्हा से संपर्क किए जाने पर उन्होंने कहा था कि उन्हें बैठक में उपस्थित होने के लिए कहा गया है इसलिए वह दिल्ली पहुंच चुके हैं। सिन्हा ने मुकुल रॉय और अनुपम हाजरा की ओर इशारा करते हुए कहा था कि तृणमूल से भाजपा में आए नेताओं के लिए रास्ता साफ करने के वास्ते उन्हें (सिन्हा) हटाया गया है। सिन्हा ने शनिवार को एक वीडियो संदेश में कहा था, मैं पिछले 40 सालों से भाजपा में हूं। आज मुझे पार्टी से यह पुरस्कार मिला कि तृणमूल से भाजपा में आए नेताओं के लिए मुझे पद से हटा दिया गया। उन्होंने कहा था, अपना अगला कदम तय करने से पहले मैं 10-12 दिन इंतजार करूंगा।

Recent Posts

%d bloggers like this: