October 26, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती समेत 32 आरोपी बरी

दिल्ली:- अयोध्या में 28 साल पुराने बाबरी का विवादित ढांचा ढहाए जाने के मामले में लखनऊ की स्पेशल कोर्ट ने बुधवार को बड़ा फैसला सुनाया। सीबीआई कोर्ट के जज एसके यादव ने लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती समेत 32 आरोपियों को बरी कर दिया है। इस केस में कुल 48 लोगों पर आरोप लगे थे, जिनमें से 17 की मौत हो चुकी है। फैसला सुनाते हुए जज एके यादव ने कहा कि बाबरी की घटना पूर्व नियोजित नहीं थी। ये घटना अचानक हुई थी। सिर्फ तस्वीरों के आधार पर किसी को गुनहगार नहीं ठहरा सकते। अयोध्या के रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद में मुस्लिम पक्ष की ओर से मुकदमे की पैरवी करने वाले जफरयाब जिलानी ने कहा है कि वे बाबरी विध्वंस केस में सीबीआई अदालत के फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती देंगे। सीबीआई की अदालत ने बाबरी मस्जिद ढहाने के मामले में सभी आरोपियों को बरी करने का आज फैसला सुनाया है।

Recent Posts

%d bloggers like this: