October 19, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

किसानों से राहुल ने कहा, पहले पैर में अब दिल में मारी कुल्हाड़ी

नई दिल्ली:- कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को किसानों से बातचीत की। किसान संगठन और विपक्ष के नेता लगातार कृषि कानून को लेकर राष्ट्रव्यापी विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। उन्होंने इस कानून को अंग्रेजों का कानून बताया। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कांग्रेस शासित सभी राज्यों से केंद्र के किसान विरोधी विधान को नकारने वाले कानून पारित करने को कहा है। किसान मजदूर संघर्ष समिति रेल रोको प्रदर्शन करेगी। पंजाब के जालंधर, अमृतसर, टांडा, मुकेरियां और फिरोजपुर में 24 सितंबर से प्रदर्शनकारी रेल की पटरियों पर बैठ हुए हैं। इसके अलावा कांग्रेस की योजना गांधी जयंती के मौके पर बड़ा प्रदर्शन करने की है। वहीं डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन ने कहा है कि उनकी पार्टी कानून के खिलाफ अदालत का दरवाजा खटखटाएगी। राहुल ने कानून का विरोध करते हुए इसे अंग्रेजों का कानून करार दिया। उन्होंने कहा कि अंग्रेजों से लड़ाई के लिए महात्मा गांधी ने कई आंदोलन किए, आज महात्मा गांधी जिंदा होते तो इस कानून का विरोध करते। कांग्रेस नेता ने कहा कि तीन कृषि किसान और नोटबंदी-जीएसटी में कोई फर्क नहीं है। पहले पैर में कुल्हाड़ी मारी और अब दिल में चोट की। राहुल ने कहा कि इन्हें ये बात समझ नहीं आएगी ये लोग तो अंग्रेजों के साथ खड़े थे। पंजाब में किसान मजदूर संघर्ष समिति के सदस्य कृषि कानून के विरोध में, अमृतसर के देवीदासपुरा गांव में रेलवे ट्रैक पर काले कपड़े पहनकर बैठे हैं। उनके आंदोलन का आज छठवां दिन है। किसान मजदूर संघर्ष समिति के महासचिव का कहना है कि समिति अमृतसर में रेल रोको आंदोलन करेगी। एक अक्तूबर को हम अन्य लोगों के साथ मिलकर बड़े पैमाने पर आंदोलन की घोषणा करेंगे। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने सोमवार को कहा कि उनकी सरकार नए कृषि कानूनों के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएगी।

Recent Posts

%d bloggers like this: