October 26, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बिहार में आज से खुल गए सरकारी और निजी स्कूल, इन गाइडलाइन्स का करना होगा पालन

पटना:- बिहार सरकार के निर्देश पर 28 सितंबर, सोमवार से राज्य के अधिकांश सरकारी एवं निजी विद्यालय खुल गए हैं। नौवीं से 12वीं तक के विद्यार्थी स्कूल जाकर शिक्षकों से मार्गदर्शन प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए अभिभावक की सहमति जरूरी है। स्कूल बच्चों को आने के लिए बाध्य नहीं करेंगे। नियमित कक्षाओं का संचालन अभी बंद रहेगा। हालांकि, कोरोना महामारी को देखते हुए ज्यादातर निजी स्कूलों ने बंद ही रखने का फैसला लिया है। निजी स्कूलों ने यह निर्णय अभिभावकों की ओर से दिए गए फीडबैक के बाद लिया है। मिशनरी स्कूलों ने भी अभी स्कूल बंद रखने का ही निर्णय लिया है। ये स्कूल अभी विद्यार्थी नहीं बुलाएंगे। सरकारी स्कूलों में भी जहां विधानसभा चुनाव के लिए कोई गतिविधि होगी तो छात्र नहीं बुलाए जाएंगे। केवल इच्छुक बच्चे अभिभावक की सहमति से स्कूल जाकर शिक्षक से मिलकर पढ़ाई संबंधी समस्या का समाधान कर सकेंगे। वैसे निजी स्कूलों के आंतरिक सर्वे में अधिसंख्य अभिभावकों ने बच्चों को स्कूल भेजने से इनकार कर दिया है। शिक्षा विभाग की गाइडलाइन के अनुसार एक स्टूडेंट्स को सप्ताह में अल्टरनेट-डे यानी मात्र दो दिन ही आने का निर्देश दिया गया है। स्कूल आने से पूर्व अपने अभिभावकों से लिखित सहमति लाना होगा।
इन गाइडलाइन्स का होगा पालन
सभी छात्रों को मास्क लगाकर स्कूल आना होगा। सोशल डिस्टैंसिंग का पालन करवाते हुए उनकी सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जायेगा। सोशल डिस्टैंसिंग का पालन कराते हुए वर्ग कक्ष में बैठने की व्यवस्था सहित हाथ धोने के लिए साबुन व सैनिटाइजर आदि की व्यवस्था स्कूल को करनी होगी। प्रार्थना सभा, खेलकूद, प्रैक्टिकल क्लास, लंच सहित सभी सामूहिक गतिविधियों पर रोक होगा।
जिले के माध्यमिक और उच्च माध्यमिक स्कूलों को 28 सितंबर से खोलने का निर्णय लिया गया है। इन स्कूलों को शनिवार और रविवार को सेनिटाइज किया गया। डीपीओ मनोज कुमार ने बताया कि सोमवार कुछ स्कूल खुलेंगे। स्कूल में 50 फीसदी शिक्षक रहेंगे। छात्र अभिभावक की अनुमति लेकर अभिभावक के साथ स्कूल आ सकते हैं। वहीं जिले के दस स्कूल में विधानसभा चुनाव को लेकर प्रशिक्षण कार्य चलेगा। इस कारण इन स्कूलों में छात्रों को नहीं बुलाया जायेगा। सीबीएसई स्कूलों की बात करें तो 29 सितंबर तक कंपार्टमेंटल परीक्षा होगी। वहीं सोमवार से कंपार्टमेंटल परीक्षा का मूल्यांकन कार्य भी शुरू होगा। इसमें स्कूल के 50 फीसदी से अधिक शिक्षकों को लगाया गया है। इससे स्कूल में डाउट क्लास नहीं चलेगी।

Recent Posts

%d bloggers like this: