October 19, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

हरित क्रांति को हराने की घिनौनी साजिश हो रही है-रामेवश्र उरांव

रांची:- झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष डॉ0 रामेश्वर उरांव एवं विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने आज कांग्रेस भवन में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित किया।
डॉ रामेश्वर उरांव ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी सरकार ‘हरित क्रांति’ को हराने की घिनौनी साजिश कर रही हैं। मोदी सरकार ‘कोरोना महामारी’ की तरह है, जो खेती-किसानी के लिए जानलेवा साबित हो रही है। उन्होंने कहा कि जब नोटबंदी की मोदी जी ने रो-रोकर कहा- मेरे को पचास दिन दे दो। पचास बीत गए कितने लोग मरे। जब कोरोना का लॉकडाउन किया, कहते हैं, मेरे को 21 दिन दे दो, मैं सब ठीक कर दूँगा। आज एमएसपी की बात आई तो आज इस बिल में, आज जो इनके मंत्री कह रहे थे कि हमें दो साल का समय दे दो, और फिर चेंज देखना। क्या हम वो चेंज देखेंगे, जो डिमोनेटाइजेशन के बाद इकॉनमी का हाल हुआ। क्या हम वो चेंज देखेंगे, जो 21 दिन के कोरोना के लॉकडाउन के बाद इतने मरीज बढ़े हैं। हमारे सांसदों ने संसद में अपील की कि आप जो मर्जी करो, हमें ये लिखकर दे दो कि जो भी एमएसपी होगी, उस पर सरकार खरीद करेगी, ये लिखकर दे दो और माइक बंद कर देतें हैं, फिर, मंत्री हाउस छोड़कर भाग जाते हैं।
इस मौके पर कांग्रेस विधायक दल के नेता सह मंत्री आलमगीर आलम ने कहा कि देश का किसान और मजदूर सड़कों पर है, पर सत्ता के नशे में मदमस्त मोदी सरकार उनकी रोटी छीन खेत और खलिहान को मुट्ठी भर पूंजीपतियों के हवाले करने में लगी है। कृषि विरोधी तीन काले कानूनों ने ‘सबका साथ, सबका विकास’ की झूठ और उसका पर्दा मोदी सरकार के चेहरे से उठा दिया है। अब मोदी सरकार का नया मूल मंत्र है, वो है – “किसानों को मात और पूंजीपतियों का साथ। खेत मजदूरों का शोषण और पूंजीपतियों का पोषण, गरीबों का दमन और पूंजीपतियों को नमन”। यही सच्ची वास्तविकता है।
इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस कमिटी के कार्यकारी अध्यक्ष सह मीडिया प्रभारी राजेश ठाकुर, कार्यकारी अध्यक्ष केशव महतो कमलेश, संजय लाल पासवान, प्रवक्ता डॉ0 एम. तौसीफ, ज्योति सिंह मथारू, रांची ग्रामीण अध्यक्ष सुरेश बैठा उपस्थित थे।

Recent Posts

%d bloggers like this: