October 20, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

चुनौतियों के बीच विकास की गतिविधियां तेज हुई-कांग्रेस

रांची:- मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन राज्य के हर चुनौतियों को सामना करते हुए विकास की पटरी को दौडा रही है और जनता की हर समस्याओं के साथ खड़ी है, उक्त बातें झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमिटी के योजना एवं रणनीति विभाग के सदस्य अमिताभ रंजन ने कही है। श्री रंजन ने कहा कि कोरोना महामारी में लोगों की स्वास्थ्य के प्रति सजगता, प्रवासी मजदूरों को घर लाने, रोजगार से जोड़ने के साथ-साथ मनरेगा कर्मियों के आंदोलन, सहायक पुलिस कर्मियों के आंदोलन को महागठबंधन की झारखंड सरकार ने इस संकट में भी समाधान की है। उन्होंने कहा कि हेमंत सरकार की निरंतर प्रयास और राज्यवासियों के सहयोग से कोरोना मरीज राज्य में शत प्रतिशत स्वस्थ्य होकर घर लौट रहे हैं, यह बहुत ही खुशी की बात है। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती रघुवर सरकार की गलत नीतियों के कारण सहायक पुलिस कर्मी 12 दिनों तक आंदोलन किये, मनरेगा कर्मी 45 दिनों तक आंदोलन किये, डीवीसी ने पांच साल पूर्व बकाया राशि के कारण राज्य में बिजली आपूर्ति ठप करने लगी, वहीं गलत नियोजन नीति के कारण 18 हजार शिक्षकों के भविष्य अधंकारमय कर दी है। इन सबके बावजूद भी झारखंड की महागठबंधन की सरकार इन सब मामलों में गंभीर है और इसकी चिंता कर रही है। भाजपा की पूर्व सरकार की कुकृत्य को सुलझाने के लिए हेमंत सरकार जिम्मा ले रही है। महागठबंधन की सरकार हमेशा झारखंडवासियों के लिए सोचती है और आगे भी सोचते रहेगी, क्योंक इस सरकार को छत्तीसगढ़ की नहीं अपनी झारखंडी मिटटी की सुंग्ध पता और हमेशा बरकरार रखना चाहती है। श्री रंजन ने कहा कि आज केन्द्र की मोदी सरकार अपने पूंजीपतियों दोस्तों को फायदा पहुंचाने के लिए देश के हर चीज कॉरपोरेट करने में लगी है, जो देश हित में ठीक नहीं है। केंद्र सरकार की कृषि काननू-2020 न्यूनतम समर्थन मूल्यों को कमजोर करते हुए देश के किसानों का आर्थिक शोषण है। इस कानून से सिर्फ पूंजीपतियों का मालामाल है-व्यापारियों की मनमानी है और किसानों की सिर्फ और सिर्फ परेशानी है।

Recent Posts

%d bloggers like this: