October 26, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बिहार विस चुनाव 2020:-56 सीटों पर फंसा है JDU और BJP के बीच टिकट का पेच

पटना:- बिहार चुनाव के लिए एनडीए में संख्या तय करने के साथ ही सीटों के बंटवारे पर भी माथापच्ची जारी है। जदयू-भाजपा की ओर से जारी मंथन में अब तक 49 सीटें ऐसी चिह्नित हुई हैं, जहां साल 2015 के चुनाव में दोनों ने एक -दूसरे को पटकनी दी थी। वहीं, राजद से नाता तोड़कर जदयू में शामिल हुए सात विधायकों के कारण अब इन सीटों पर किसकी दावेदारी हो, इस पर भी जिच कायम है। इस तरह एनडीए में सीट बंटवारे में अभी 56 सीटों की पहचान की गई है, जिसका बंटवारा आलानेता मिल-बैठकर ही करेंगे। हालांकि आला नेताओं का दावा है कि एनडीए में सीट को लेकर कोई विवाद नहीं है और जल्द संख्या के साथ ही सीटों की भी पहचान हो जाएगी।

वर्ष 2015 में जदयू ने भाजपा को हराया था

दरौंदा, फुलपरास, बेनीपुर, इस्लामपुर, महाराजगंज, लौकहा, जीरादेई, नालंदा, एकमा, निर्मली, परबत्ता, अगिआंव, महनार, सुपौल, गोपालपुर, राजपुर, मैरवां, रानीगंज, अमरपुर, दिनारा, सरायरंजन, रूपौली, बेलहर, नवीनगर, मटिहानी, बिहारीगंज व राजगीर।

वर्ष 2015 में भाजपा ने जदयू को हराया था

चनपटिया, कल्याणपुर, पिपरा, मधुबन, अमनौर, सिकटी, कटिहार, जाले, कुढ़नी, मुजफ्फरपुर, बैकुंठपुर, सीवान, लखीसराय, बिहारशरीफ, बाढ़, दीघा, भभुआ, गोह, गौराबौराम, हिसुआ, वारसलीगंज व झाझा।

इन सीटों से जीते राजद विधायक जदूय में आए
परसा, गायघाट, तेघड़ा, पातेपुर, केवटी, सासाराम, तेघड़ा और पालीगंज।

Recent Posts

%d bloggers like this: