October 24, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सेविका/सहायिका का परफाॅरमेंस इंडेक्स तैयार करें -: उपायुक्त

रांची:- उपायुक्त, रांची छवि रंजन की अध्यक्षता में शुक्रवार को जिला समाज कल्याण विभाग की समीक्षात्मक बैठक आयोजित की गयी। रांची समाहरणालय ब्लाॅक ए स्थित उपायुक्त सभागार में आयोजित बैठक में जिला समाज कल्याण पदाधिकारी, रांची एवं सभी प्रखंड के बाल विकास परियोजना पदाधिकारी उपस्थित थे। बैठक में उपायुक्त छवि रंजन ने आंगनबाड़ी सेविका/सहायिकाओं की प्रोजेक्टवार रिक्ति, रेडी टू ईट एवं हॉट कुक मिल के वितरण एवं इससे संबंधित राशि के भुगतान/समायोजन, प्रोजेक्टवार सेविका/सहायिका के मानदेय भुगतान, टीकाकरण, एएनसी 1, 2, 3, 4 की प्रोजेक्टवार विवरणी, सीडीपीओ और सुपरवाइजर द्वारा आंगनबाड़ी केंद्रों का क्षेत्र भ्रमण एवं निरीक्षण, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना, पोषण अभियान, संस्थागत प्रसव, एमटीसी और इसकी ऑक्युपेंसी, आंगनबाड़ी केंद्रों में पंजीकृत बच्चों के वजन माप की स्थिति आदि की विस्तार से समीक्षा की आवश्यक दिशा निदेश दिये। उपायुक्त छवि रंजन ने बैठक में उपस्थित सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारियों से संबंधित क्षेत्र में टीकाकरण और संस्थागत प्रसव की विस्तार से जानकारी ली। समाज कल्याण पदाधिकारी को उपायुक्त ने प्रखंडवार पिछले महीने बच्चों और गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण की रिपोर्ट देने को कहा। उपायुक्त ने कहा कि टीकाकरण पर सेविका की कैटेगरी वाइज रिपोर्ट होनी चाहिए। संस्थागत प्रसव से संबंधित जानकारी लेते हुए उपायुक्त ने गर्भवती महिलाओं की निर्धारित जांच प्रक्रियाओं को पूर्ण करने का निदेश दिया। उपायुक्त ने कहा कि एएनसी शत प्रतिशत होना चाहिए, इसके लिए सेविका होम विजीट करें। उन्होंने सभी सीडीपीओ से इसकी समीक्षा करने को कहा।
एक महीने में सभी बच्चों का वजन करायें – उपायुक्त
बैठक में उपायुक्त ने परियोजनावार सभी आंगनबाड़ी केन्द्रों में पंजीकृत बच्चों के वजन माप की स्थिति की समीक्षा की। सीडीपीओ से उन्होंने केन्द्र में बच्चों की संख्या, वजन माप किये गये बच्चों की संख्या और कुपोषित पाये गये बच्चों की संख्या में बारे में सभी सीडीपीओ से जानकारी ली। उपायुक्त ने सभी सीडीपीओ से कहा कि एक महीने में सभी आंगनबाड़ी केन्द्र में पंजीकृत बच्चों का वजन करायें एवं कुपोषित/अति कुपोषित बच्चों को एमटीसी में भर्ती सुनिश्चित करायें।
प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की समीक्षा
उपायुक्त ने बैठक में जिला में प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के लाभुकों की जानकारी लेते हुए विस्तार से समीक्षा की। उपायुक्त ने कहा कि योजना के अंतर्गत जो भी लंबित मामले हैं, कारण अनुसार विभाजित करते हुए सीडीपीओ स्तर से उसका निष्पादन करें। उन्होंने जिला समाज कल्याण पदाधिकारी को सभी प्रखंडों से प्रथम बच्चे को जन्म देनेवाली महिलाओं की रिपोर्ट देने को कहा।
भ्रष्टाचार की शिकायत नहीं आनी चाहिए – उपायुक्त
उपायुक्त छवि रंजन ने बैठक में सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारियों से कहा कि प्रोजेक्ट एरिया में आपको अपनी जिम्मेवारी लेनी पड़ेगी। समाज कल्याण के अंतर्गत चलायी जा रही योजनाओं का लाभ लोगों को मिल रहा है या नहीं, क्षेत्र भ्रमण कर इसकी पड़ताल करें, सभी सीडीपीओ अपने प्रोजेक्ट एरिया में रहें। उपायुक्त ने सख्त हिदायत देते हुए कहा कि भ्रष्टाचार की शिकायत नहीं आनी चाहिए।
सेविका/सहायिका का परफाॅरमेंस इंडेक्स तैयार करें – उपायुक्त
उपायुक्त ने सभी सीडीपीओ से सेविका/सहायिका का परफाॅरमेेंस इंडेक्स तैयार करने का निदेश दिया। उन्होंने कहा कि अलग-अलग इंडिकेडर के आधार पर पहले पांच अच्छे और खराब प्रदर्शन करनेवाले सेविका/सहायिका का परफाॅरमेंस इंडेक्स तैयार करें। खराब प्रदर्शन करनेवाले एक ही सेविका/सहायिका को लगातार चार-पांच बार शोकाॅज जाने के बाद कार्रवाई करने का निदेश उपायुक्त ने डीएसडब्ल्यूओ को दिया।
चान्हो और अनगड़ा सीडीपीओ को शोकाॅज करने का निदेश
उपायुक्त रांची छवि रंजन ने चान्हो और अनगड़ा बाल विकास परियोजना पदाधिकारी को शोकाॅज करने का निदेश दिया है। विभाग द्वारा निरीक्षण/पर्यवेक्षण के निर्धारित लक्ष्य का अनुपालन नहीं करने पर उपायुक्त ने जिला समाज कल्याण पदाधिकारी को चान्हो और अनगड़ा सीडीपीओ को शोकाॅज करने का निदेश दिया। इसके अलावा बैठक में उपायुक्त ने पोषण अभियान अंतर्गत किये जानेवाले कार्यो के बारे में भी विस्तार से जानकारी लेते हुए जिला समाज कल्याण पदाधिकारी को आवश्यक दिशा निदेश दिये।

Recent Posts

%d bloggers like this: