October 27, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

CM योगी को जान से मारने की धमकी देने वाला आरोपी गिरफ्तार, मुख्तार अंसारी को जेल से छोड़ने की थी डिमांड

लखनऊ:- यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को एक बार फिर जान से मारने की धमकी मिली है पुलिस आयुक्त सुजीत पांडेय ने बताया कि 9696755113 नम्बर से किसी बदमाश ने बुधवार को यूपी 112 सेवा के व्हाट्सअप नम्बर पर कई धमकी भरे मैसेज भेजे थे। इसकी सूचना पर इंस्पेक्टर हजरतगंज अंजनी कुमार पांडे की तरफ से मुकदमा दर्ज कराया गया है। इस बार धमकी देने वाले ने बाहुबली मुख्तार अंसारी को जेल से छोड़ने की डिमांड की थी। ऐसा न करने पर सीएम योगी को मौत के घाट उतारने को कहा गया था। पुलिस ने धमकी देने वाले आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। उत्तर प्रदेश पुलिस ने जानकारी दी कि सीएम योगी को धमकी देने वाले आरोपी शख्स को लखनऊ से गिरफ्तार कर लिया गया है। हजरतगंज थाना प्रभारी अंजनी पांडेय ने जानकारी दी कि आरोपी का नाम अमरपाल है। वह एक ट्रक ड्राइवर है, जो इटावा का रहने वाला है। उन्होंने बताया कि आरोपी ने नशे में यूपी 112 नंबर पर व्हॉट्सएप कर सीएम योगी को धमकी दी थी। प्रभारी ने बताया कि पूछताछ में आरोपी ने कहा कि उसका इन सब चीजों से कोई लेना देना नहीं है। खबरों के मुताबिक, पुलिस आयुक्त ने बताया कि धमकी भरे मैसेज बुधवार सुबह 9.56 से 10.11 बजे के बीच भेजे गए थे। मैसेज में सीएम के प्रति अभद्र बातें करने के साथ ही मुख्तार को 24 घंटे के भीतर जेल से बाहर निकलने की बात कही गई थी। धमकी देने वाले ने मैसेज में लिखा था कि मुख्तार को जेल से नहीं छुड़ाया गया तो 25 तारीख यानी शुक्रवार तक सरकार मिटा दी जाएगी। उन्होंने बताया कि जिस नम्बर से धमकी भरे मैसेज भेजे गए हैं, उसका पता चल गया है। पुलिस की एक टीम आरोपी की तलाश में भेजी गई है। जल्द आरोपी गिरफ्त में होंगे। बता दें कि यह पहला ऐसा मामला नहीं है जब सीएम योगी को धमकी आई हो। ऐसा कई बार हो चुका है। गोंडा के युवक ने भी यूपी 112 पर सीएम योगी को धमकी भरा मैसेज भेजा था। उसने सीएम को समुदाय विशेष के लिए खतरा बताया था। जिसके बाद पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया था। दरअसल मुख्तार पर यूपी पुलिस लगातार शिकंजा कस रही है। पहले बेटों को लखनऊ में अवैध निर्माण गिराया गया। इसके बाद पत्नी और सालों पर गैंगस्टर की कार्रवाई। उसके बाद गैर जमानती वारंट भी जारी हो गया है। आयुक्त ने बताया कि आरोपी अमरपाल ने धमकी वाले मैसेज में लिखा था कि मुख्तार को जेल से नहीं छुड़ाया गया तो 25 तारीख यानी शुक्रवार तक सरकार मिटा दी जाएगी. इसके बाद पुलिस उस नंबर की जांच में जुट गई थी। जैसे ही नंबर का पता चला आरोपी को शनिवार सुबह ही गिरफ्तार कर लिया गया।

Recent Posts

%d bloggers like this: