October 28, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सिमरिया में हर सप्ताह लगता है मौत का बाजार, बावजूद संभावित सड़क दुर्घटनाओं को ले प्रशासन नहीं है गंभीर

चतरा:- चतरा जिले में आए दिन सड़क हादसे होते रहते हैं। सड़क दुर्घटना में अब तक कई जान काल के गाल में समा चुकी है। जिसे रोकने के लिए सरकार ने कई नियम लागू किए हैं, लेकिन जिला प्रशासन की बेरुखी की वजह से जिले के सिमरिया प्रखंड में हर गुरुवार को मौत का बाजार लगता है। दरअसल विगत कई वर्षों से सिमरिया- टंडवा रोड के बीचे बीच पर ही सब्जी मार्केट लगता है। जहां बड़ी संख्या में ग्रामीण क्षेत्रों से खरीदारी करने आने वाले ग्रामीणों को हमेशा हादसा होने का डर लगा रहता है। सिमरिया में गुरुवार को मौत का बाजार लगना थोड़ा अटपटा जरुर लगेगा, लेकिन यही सच्चाई है। दरअसल हम बात कर रहे हैं चतरा जिले के सिमरिया से टंडवा जाने वाली रोड की। एशिया की सबसे बड़ी कोल परियोजनाएं टंडवा में संचालित हो रही है। यहां से कोल ट्रांसपोर्टिंग में लगी कोल वाहनों का संचालन इसी रोड से होती है, जिसे लोग सड़क दुर्घटनाओं के शिकार हो रहे हैं। इस सड़क पर मौत थमने का नाम नहीं ले रहा। स्थानीय लोगों का कहना है कि बाजार सड़क के बीचों बीच लगते हैं। जहां खरीदारी करने से डर लगता है। लोगों कहना है कि मजबूरी की वजह से वहां जाना पड़ता है। प्रशासनिक स्तर पर इसके लिए अब कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है।

Recent Posts

%d bloggers like this: