October 22, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

धोनी पर भड़के गंभीर

नई दिल्ली:- भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ सातवें नंबर पर बल्लेबाजी के लिये उतरने पर कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी की जमकर आलोचना की है। गंभीर ने कहा कि धोनी को बड़े लक्ष्य का पीछा करते हुए बल्लेबाजी क्रम में ऊपर आकार टीम की अगुवाई करनी चाहिये थी। गंभीर ने कहा कि किसी और कप्तान ने ऐसा किया होता तो उसकी काफी आलोचना होती पर धोनी के ऐसा करने पर कोई बात भी नहीं कर रहा। गंभीर ने एक बयान में कहा कि युवा खिलाड़ियों को बल्लेबाजी के लिए पहले भेजा गया वहीं स्वयं धोनी सातवें नंबर पर आये जिससे मुझे खासी हैरानी हुई जबकि उनको तो एक छोर संभालना चाहिये था। 217 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए सातवें नंबर पर बल्लेबाजी के लिए आना मोर्चे से अगुवाई करना नहीं होता। फाफ डूप्लेसी ने अकेले ही टीम को जीत दिलाने के लिए प्रयास किये। गंभीर ने साथ ही कहा कि कम अभ्यास के कारण अगर धोनी शुरुआत में भी आउट हो जाते तो भी कोई हर्ज नहीं होता पर टीम को प्रेरणा तो मिलती। आखिरी ओवरों में उतरने से क्या लाभ आपने तीन गेंद में तीन छक्के लगा दिए। यही पहले किया होता तो परिणाम कुछ और होता। उन्होंने कहा शायद जीत की ललक ही नहीं थी। पहले छह ओवर के बाद लग रहा था कि उन्होंने उम्मीद छोड़ दी है।

Recent Posts

%d bloggers like this: