October 30, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

पुराने तेल ब्लॉकों की नीलामी जल्द

नई दिल्ली:- पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय देश में हाइड्रोकार्बन उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए एक नई नीति बना रहा है। ‎जिसमें वह ऑयल इंडिया और ओएनजीसी के पुराने तेल ब्लॉकों से उत्पादन बढ़ाने वाले अनुबंध (पीईसी) के लिए बोली जल्द आमंत्रित करेगा। सरकार उत्पादकों को रियायत देने और समय-सीमा बढ़ाने पर भी विचार कर रहा है। साथ ही तेल पर उपकर घटाने के लिए वित्त मंत्रालय से बातचीत कर रहा है। पीईसी की बोली प्रक्रिया उसी तरह की होगी जिसके तहत पिछले साल ओएनजीसी ने 29 हाइड्रोकार्बन ब्लॉक के लिए बोली लगाई थी। एक अधिकारी ने कहा ‎कि ‘कोविड संकट से निपटने में कंपनियों की मदद करने के लिए हम समय-सीमा बढ़ाने, रियायतें देने और उत्पादकों के लिए तेल उपकर को घटाने के विकल्प तलाश रहे हैं। कोविड के प्रकोप के बाद विभिन्न उद्योग संगठनों और कंपनियों ने पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय से संपर्क कर रॉयल्टी, उपकर एवं पेट्रोलियम पर मुनाफा भुगतान में कमी करने अथवा उसे माफ करने की मांग की थी। इसके अलावा कंपनियों ने गैस की कीमतें बढ़ाने की भी मांग की है। वित्त मंत्रालय को लिखे एक पत्र में एसोसिएशन ऑफ ऑयल ऐंड गैस (एओजीओ) ने कहा था कि सरकारी कर अधिक होने के कारण तेल एवं गैस का परिचालन अब व्यावहारिक नहीं रह गया है। इसी प्रकार तेल एवं गैस उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए सरकार पुराने तेल क्षेत्रों के लिए नए सिरे से पीईसी निविदा जारी करने के लिए तैयार है।

Recent Posts

%d bloggers like this: