October 26, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

भाजपा विधायकों का विस के मुख्य द्वार पर प्रदर्शन

रांची:- झारखंड विधानसभा मानसून सत्र के दूसरे दिन सोमवार को सदन की कार्यवाही शुरू होने के पहले विपक्षी दल भाजपा विधायकों ने सदन के बाहर प्रदर्शन किया। इस मौके विपक्ष के नेताओं ने सहायक पुलिसकर्मियों पर हुए लाठी चार्ज, लैंड म्युटेशन बिल को वापस लेने, विधि व्यवस्था को दुरुस्त करने, भूख से हुई मौत की न्यायिक जांच करने, चंदनकियारी इंजीनियरिंग कॉलेज को चंदनकियारी में ही बनाने, मधुपुर में पत्रकार हमले के आरोपी को निलंबित करने, जर्जर सड़क, नृसिंह मंदिर पर असामाजिक तत्व द्वारा किये पथराव के आरोपी की गिरफ्तारी आदि जैसे जन मुद्दों को लेकर प्रदर्शन किया।
भाजपा नेताओं ने कहा कि झारखंड में महागठबंधन की सरकार अपनी नाकामी को छिपाने का प्रयास कर रही है। जबकि यहां के युवा, महिला, दलित, किसान, गरीब आदि सरकार के रवैये से त्राहिमाम कर रहे है। नेताओं ने कहा कि हेमंत सरकार फेल है।
सारठ विधानसभा क्षेत्र के विधायक और पूर्व मंत्री रणधीर सिंह ने मधुपुर में पत्रकार के साथ हुए दुव्र्यवहार के विरोध में विधान सभा मे प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि पत्रकार समाज का चैथा स्तंभ होते है। ऐसे में पुलिस प्रशासन के तरफ से हमला होना दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने हेमंत सरकार से मांग किया कि आरोपी इंसपेक्टर को अविलंब निलंबित कोया जाए या फिर उसका स्थानांतरण किया जाए।
चंदनकियारी विधायक अमर कुमार बाउरी ने सोमवार को विधानसभा मानसून सत्र के दूसरे दिन सत्र शुरू होने से पहले चंदनकियारी के इंजीनियरिंग कॉलेज को वापस करने और दलित परिवार भूखल घासी के परिजनों को मुआवजा और सुरक्षा देने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया।

Recent Posts

%d bloggers like this: