October 22, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

रांची में हुई झड़प को लेकर सहायक पुलिसकर्मियों के खिलाफ एफआईआर

रांची:- राजधानी रांची के मोरहाबादी मैदान में पुलिस और सहायक पुलिस कर्मियों के बीच झड़प में कई पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इस मामले में शनिवार को रांची में एफआईआर दर्ज की गई है। इसमें 30 नामजद और लगभग 1000 अज्ञात लोगों को आरोपी बनाया गया है। इस बीच बीजेपी के चार विधायकों और पार्टी नेताओं ने प्रदर्शनकारियों से मुलाकात कर उनकी समस्याओं को जानने की कोशिश की है। बीजेपी विधायक भानु प्रताप शाही और अमित मंडल समेत पार्टी के विधायक और नेताओं ने कहा कि वो सोमवार को मॉनसून सत्र में इनकी समस्याओं को जोर-शोर से उठाएंगे। बताया गया कि पुलिस के लाख समझाने के बावजूद सहायक पुलिस कर्मी नहीं माने और उन्होंने पुलिस पर पथराव किया। इस पथराव में रांची के सिटी एसपी लालपुर थाना प्रभारी सार्जेंट मेजर सहित एक दर्जन पुलिसकर्मी घायल हो गए थे। इससे पहले भी इन सहायक पुलिसकर्मियों के खिलाफ तीन दिन पहले ही लालपुर थाना में एक अन्य प्राथमिकी दर्ज की गई है। उस मामले में सहायक पुलिसकर्मियों पर लॉकडाउन उल्लंघन समेत अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज कराया गया है। सहायक पुलिस कर्मियों का कहना है कि नियुक्ति के समय बताया गया था कि 3 साल बाद उनकी सेवा स्थायी हो जाएगी, लेकिन 3 वर्ष पूरा होने के बाद भी किसी का स्थायीकरण नहीं हुआ है।

Recent Posts

%d bloggers like this: