October 21, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कृषि बिल विरोध: पूर्व मुख्यमंत्री के घर के सामने किसान ने खाया जहर, रेल रोको आंदोलन की घोषणा

नई दिल्ली:- मोदी सरकार के कृषि बिल के खिलाफ किसानों का रोष बढ़ता जा रहा है।इसी बीच खबर खबर की एक किसान ने आत्महत्या करने की कोशिश की है। शुक्रवार को पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल की कोठी के सामने धरने में बैठे एक किसान ने जहर खा लिया। उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। किसान की पहचान प्रीतम सिंह (55) निवासी गांव अक्कांवली जिला मानसा के तौर पर हुई है। जानकारी एक अनुसार बता दें की केंद्र सरकार के कृषि विधेयक के विरोध में पंजाब के किसान धरने पर बैठे हैं। प्रदेश भर में जगह-जगह किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी है। अब उन्होंने रेल रोको आंदोलन की घोषणा भी कर दी है। किसान मजदूर संघर्ष समिति के महासचिव स्वर्ण सिंह पंधेर ने यह जानकारी दी है। कृषि विधेयकों का विरोध कर रहे पंजाब के अलग-अलग किसान संगठनों ने पहले ही 25 सितंबर को राज्य में बंद बुलाया है। कृषि विधेयकों के विरोध में इस समय पंजाब की राजनीति भी गरमाई हुई है। इसको लेकर ही गुरुवार को हरसिमरत कौर बादल ने केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया था। वहीं प्रदेश में फतेहगढ़ साहिब से कांग्रेस विधायक कुलजीत नागर ने भी इस्तीफा दे दिया है। हरसिमरत कौर बादल ने यह कहते हुए इस्तीफा दिया कि वह और उनकी पार्टी किसी भी किसान विरोधी फैसले में सहयोगी नहीं बन सकते।

Recent Posts

%d bloggers like this: