September 25, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

मालगाड़ी की चपेट में आने से एक जंगली हाथी की मौत

रेल इंजन का पेंटो भी टूटा, ओवरहेड वायर का खंभा भी क्षतिग्रस्त

चाईबासा:- झारखंड में पश्चिमी सिंहभूम ज़िले में हावड़ा- मुंबई मुख्य रेलमार्ग पर मालगाड़ी से टकराने की वजह से एक हाथी की मौत हो गई। चक्रधरपुर रेल मंडल अंतर्गत मनोहरपुर और गोइलकेरा के बीच बुधवार देर रात यह दुर्घटना हुई। यह क्षेत्र हाथियों के गलियारे के रूप में चिह्नित है और अक्सर यहां मुख्य रेलमार्ग पर हाथियों का गुजरना होता है। इसी बीच कल देर रात 9ः30 बजे जब हाथियों का झुंड रेलवे लाइन को पार कर रहा था तो मालगाड़ी की चपेट में आने से एक हाथी की मौत हुई। इस घटना में रेल के इंजन का पेंटो भी टूट गया और ओवरहेड वायर का खंभा भी क्षतिग्रस्त हो गया। जंगली हाथी की मौत की खबर मिलने के बाद सुबह से ही मौके पर बड़ी संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुंच गये और पूजा-पाठ शुरू कर दिया। ग्रामीण जंगली हाथी की मौत को आने वाले समय के लिए क्षेत्र में किसी अनहोनी की आशंका मानते है। इसी वजह से लोग पूजा-पाठ कर अनहोनी के टलने की ईश्वर से प्रार्थना कर रहे है। वहीं वन विभाग की ओर से मालगाड़ी की चपेट में आये हाथी के पोस्टमार्टम के बाद उसे दफनाने की तैयारी की जा रही है। गौरतलब है कि सारंडा का यह जंगली इलाका हाथियों के गलियारे के रूप में चिह्नित है। जंगली हाथी इसी रास्ते से होकर पड़ोसी राज्य ओड़िशा से आते-जाते है। लेकिन हाल के वर्षाें में वन क्षेत्र के अतिक्रमण के कारण मानव और जंगली हाथियों के बीच संघर्ष की घटनाओं में बढ़ोत्तरी हुई है, वहीं इलाके में मालगाड़ी और अन्य पैसेंजर रेलगाड़ियों के आवागमन के कारण अक्सर जंगली हाथियों के रेल इंजन की चपेट में आने की खबर मिलती है।

Recent Posts

%d bloggers like this: